Ukraine-Russia War: हद पार करेंगे पुतिन! यूक्रेन को घुटनों पर लाने के लिए दाग सकते हैं ये खतरनाक हथियार, US भी थर्राया

Ukraine-Russia War Updates: डेली मेल के मुताबिक, जैसा कि जंग की प्रगति कीव के पक्ष में तेजी से बढ़ रही है, आशंकाएं बढ़ रही हैं कि रूस यूक्रेन को सरेंडर के लिए मजबूर करने के लिए और उपाय कर सकता है. इसमें परमाणु हमला या एक गंदे बम से हमला करना शामिल है. 
 
Ukraine-Russia War: हद पार करेंगे पुतिन! यूक्रेन को घुटनों पर लाने के लिए दाग सकते हैं ये खतरनाक हथियार, US भी थर्राया

America on Novichok Poison: दुनिया पिछले 9 महीने से यूक्रेन और रूस युद्ध देख रही है. जहां रूस यूक्रेन के शहरों पर मिसाइलों और रॉकेट से हमला कर रहा है. वहीं यू्क्रेन भी मुंहतोड़ जवाब दे रहा है. लेकिन इन सबके बीच अमेरिका को अलग ही डर सता रहा है. अमेरिकी अधिकारियों को डर है कि रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन यूक्रेन में बड़े पैमाने पर रासायनिक हथियारों के हमलों में नोविचोक जहर का इस्तेमाल कर सकते हैं. एक मीडिया रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई.

अमेरिका को सता रहा डर

डेली मेल के मुताबिक, जैसा कि जंग की प्रगति कीव के पक्ष में तेजी से बढ़ रही है, आशंकाएं बढ़ रही हैं कि रूस यूक्रेन को सरेंडर के लिए मजबूर करने के लिए और उपाय कर सकता है. इसमें परमाणु हमला या एक गंदे बम से हमला करना शामिल है. लेकिन मामले की जानकारी रखने वाले छह लोगों के अनुसार, नाटो के साथ परमाणु टकराव का सहारा लेने से पहले पुतिन बड़े पैमाने पर हताहत होने की घटना में रासायनिक हथियारों का इस्तेमाल करने के लिए तैयार हैं. 

पोलिटिको ने सूत्रों के हवाले से बताया कि राष्ट्रपति जो बाइडेन का प्रशासन यह सुनिश्चित करने के लिए काम कर रहा है कि उसके पश्चिमी सहयोगी इस तरह के हमले के लिए तैयार रहें. सूत्रों ने कहा कि वॉशिंगटन भविष्यवाणी करता है कि रूस युद्ध के मैदान पर और नुकसान होने या पुतिन की सेना के कुल पतन की स्थिति में रासायनिक हथियारों का उपयोग करेगा.


डेली मेल के अनुसार, इस तरह के हमले के लिए रणनीति बनाने वाले अमेरिका के टॉप अधिकारियों का मानना है कि मॉस्को उन रासायनिक हथियारों को तैनात कर सकता है, जिन्हें रूस अतीत में इस्तेमाल करने के लिए जाना जाता है. इसके अलावा विपक्षी नेता अलेक्सी नवलनी और पूर्व रूसी सैन्य खुफिया अधिकारी सर्गेई स्क्रिपल को (सैलिसबरी, ब्रिटेन में) जहर दिया गया था. दोनों को नोविचोक नर्व एजेंट से जहर दिया गया था और उन्हें गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया था. हालांकि, वे दोनों हमले में बाल-बाल बच गए.

क्या कर सकता है रूस?

अतीत में रूस ने लोगों को निशाना बनाने के लिए नर्व एजेंट का इस्तेमाल किया था. अमेरिकी अधिकारियों ने कहा कि इसका इस्तेमाल बड़े पैमाने पर हिंसक घटना को अंजाम देने के लिए भी किया जा सकता है. कुछ रसायनों को एक एरोसोल में बदला जा सकता है या एक बड़े क्षेत्र और लोगों के एक बड़े समूह को विनाशकारी क्षति पहुंचाने के लिए गोला-बारूद का इस्तेमाल किया जा सकता है.