Weather Alert :देश के17 राज्यों में आज होगी झमाझम बारिश ,मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट
 देश में जल्द मानसून की विदाई  हो जाएगी। इससे पहले दक्षिण पश्चिम मानसून मंगलवार को दक्षिण पश्चिम राजस्थान और कच्छ से कुछ दूर हट गया है। IMD Alert के मुताबिक मानसून की राजस्थान से विदाई के साथ ही अब इस के मध्य क्षेत्र की तरफ बढ़ने की स्थिति तीव्र हो गई है।
 
Weather

मानसून अपने सामान्य वापसी पर 17 सितंबर को होने वाला था। हालांकि इसकी देरी और सक्रियता से देश के कई राज्यों में भारी बारिश का माहौल बन गया है। मौसम विभाग ने आज 15 राज्यों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है।
 

वहीं राजधानी दिल्ली में आज बर्फबारी के आसार जताए गए हैं। उड़ीसा झारखंड आंध्र प्रदेश सहित बिहार और उत्तर प्रदेश के जिलों में भारी बारिश का दौर जारी रहेगा। इसके अलावा मध्य क्षेत्र में भी बूंदाबांदी देखने को मिलेगी। दरअसल मध्य प्रदेश छत्तीसगढ़ सहित आसपास के इलाकों में बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।

केरल कर्नाटक तमिलनाडु सहित महाराष्ट्र में बौछारों का सिलसिला जारी रहेगा। वहीं आठ राज्यों में मध्यम बारिश का अलर्ट जारी किया गया है जबकि अन्य राज्यों में आसमान में बादल छाए रहेंगे ठंडी हवाएं चलेगी। पर्वतीय राज्य में बर्फबारी का दौर शुरू हो गया है। जिसके कारण जल्द ही देश में ठंड की दस्तक देखने को मिल सकती है।

नई दिल्ली में मध्यम बारिश
देश की राजधानी दिल्ली में मौसम का मिजाज बदला हुआ है। आईएमडी ने 5 दिनों तक नई दिल्ली में मध्यम बारिश की संभावना जताई है। आसमान में बादल छाए रहेंगे। तापमान में तीन से चार फीसद की गिरावट रिकॉर्ड की जाएगी। संध्या के समय बारिशों का दौर शुरू होगा। जिससे मौसम में ठंड घुलेगी।

यूपी में भारी बारिश का अलर्ट
पश्चिम उत्तर प्रदेश में बारिश का दौर जारी रहेगा लखनऊ में बुधवार को कई इलाकों में बारिश देखी गई है। इसके अलावा मौसम विभाग में मानसूनी हवाओं के कारण उत्तर प्रदेश के 15 जिलों में बारिश की संभावना जताई है। तीव्र हवाएं चलेगी। मौसम विभाग ने तापमान में भारी गिरावट की भी आशंका जताई है। साथ ही लखनऊ और आसपास के इलाकों में बारिश का येलो अलर्ट जारी किया गया है।वज्रपात से लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी गई है।

लखनऊ समेत पश्चिमी यूपी के 9 जिलों में हल्की से तेज बारिश हो सकती है ।अमौसी सहित लखनऊ कानपुर और कई इलाकों में सामान्य से भारी बारिश से देखने को मिलेगी। बादलों की आवाजाही लगातार जारी है। मौसम ने करवट बदली है रिमझिम फुहारों का सिलसिला जारी रहेगा। 

बिहार में बारिश का अलर्ट जारी
बिहार में एक बार फिर से मानसून की सक्रियता देखी जा रही है। मानसून के सक्रिय होने के कारण 12 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। आज प्रदेश के कई इलाकों में बारिश देखने को मिली है। वहीं मौसम विभाग ने भारी बारिश की संभावना से इनकार किया है। मध्यम बारिश का दौर जारी रहेगा। दोपहर में धूप खिलेगी आसमान में बादलों की आवाजाही लगी रहेगी। शाम होते ही बारिश से मौसम सुहावना बनेगा।

पटना में दोपहर बाद बारिश होने की संभावना जताई गई है जबकि आंधी के साथ छिटपुट बारिश पश्चिम बिहार तापमान में गिरावट आएगी। बिहार में मानसून सक्रिय रहने के कारण न्यूनतम तापमान 26 जबकि अधिकतम तापमान 32 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया है। 

झारखंड में निम्न दबाव का प्रभाव
बंगाल की खाड़ी में बने काम दबाव का अधिक असर उड़ीसा और झारखंड में देखने को मिल रहा है। पश्चिम बंगाल, उड़ीसा और झारखंड के कई जिलों में लगातार बारिश का दौर जारी है। बादलों के आवागमन से मौसम ठंडा बना हुआ है। तापमान में 5 फीसद की भारी गिरावट रिकॉर्ड की गई है। वहीं लो प्रेशर में तब्दील होने की वजह से झारखंड के कई इलाकों में आज भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। वहीं ऑरेंज अलर्ट जारी करते हुए राजधानी रांची सहित संथाल परगना दियारा इलाके सहित धनबाद दुमका गढ़वा गिरिडीह हजारीबाग कोडरमा रामगढ़ पलामू बोकारो सिंहभूम सिमडेगा देवघर चतरा लातेहार जामताड़ा रांची पूर्वी सिंहभूम पश्चिमी सिंहभूम गुमला आदि में भारी बारिश और वज्रपात की आशंका है।

ओडिशा आंध्र में ऑरेंज अलर्ट
मौसम विभाग ने उड़ीसा में भारी बारिश का अलर्ट जारी कर दिया है। इसके साथ ही लोगों को सतर्क और सचेत रहने की सलाह दी गई है। दरअसल उड़ीसा में फिलहाल बारिश का दौर जारी रहेगा। कम दबाव के कारण लगातार बारिश से उड़ीसा के कई हिस्से में सामान्य जनजीवन प्रभावित हो गया। 24 घंटे में और अधिक बारिश की संभावना जताई गई है। इसके लिए येलो ऑरेंज और रेड अलर्ट जारी किया गया।

बंगाल की खाड़ी में गिरने पर थोड़े कम दबाव के कारण लगातार बारिश से उड़ीसा के कई हिस्से में सामान्य जनजीवन प्रभावित हो रहे हैं। अगले 24 घंटे में और तेवर बारिश की आशंका जताई गई है।इसके लिए ऑरेंज और रेड अलर्ट जारी किया गया। अलग-अलग क्षेत्रों के लिए तेज हवा चलने के भी संकेत दिए गए हैं। लोगों को समुद्र से दूर रहने की सलाह दी गई है। तीव्र हवाएं चलेंगी। आंधी की भी स्थिति निर्मित हो सकती है। मौसम विभाग की मानें तो चक्रवर्ती परिसंचरण के साथ 5.8 किलोमीटर तक एक तरफ लाइन फैली हुई है। जिसके जल्द ही आगे बढ़ने की संभावना जताई जा रही है। इसके साथ ही आंध्र प्रदेश में भी मौसम में बदलाव देखने को मिलेगा।

महाराष्ट्र केरल कर्नाटक में भारी बारिश
मानसून सक्रिय अवस्था में दक्षिण में स्थित है। जिसके करण केरल कर्नाटक सहित तमिलनाडु और आसपास के क्षेत्रों में फुहारों का सिलसिला जारी रहेगा। 30 नवंबर तक क्षेत्रों में बारिश की संभावना जताई गई है। वहीं लौटने से पहले मानसून की तीव्रता दिखेगी। इन क्षेत्रों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।

मौसम प्रणाली
एक कम दबाव का क्षेत्र बंगाल की उत्तर-पश्चिमी खाड़ी और उससे सटे उत्तरी ओडिशा-पश्चिम बंगाल के तटों के साथ-साथ इससे जुड़े चक्रवाती परिसंचरण पर स्थित है।
इसके दो दिनों के दौरान इसके उत्तर ओडिशा और उत्तरी छत्तीसगढ़ में पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने की संभावना है।
वहीँ एक अन्य ट्रफ रेखा निम्न दबाव के क्षेत्र से बंगाल की उत्तर-पश्चिमी खाड़ी के ऊपर उत्तर ओडिशा-पश्चिम बंगाल के तटों से सटे दक्षिण-पश्चिम उत्तर प्रदेश में गंगीय पश्चिम बंगाल, झारखंड, बिहार और पूर्वी उत्तर प्रदेश तक जाती है।
इस बीच, पश्चिमी विक्षोभ एक ट्रफ रेखा के रूप में लंबे समय तक 65°E अक्षांश के उत्तर में और 28°N पर बना रहेगा।

एमपी सीजी में येलो अलर्ट
मध्य प्रदेश में मानसून की तीव्रता देखी जा रही है। 4 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। बंगाल में बने लो प्रेशर से मध्यप्रदेश में भी बारिश का माहौल बना हुआ। बंगाल की खाड़ी में बने नहीं में दबाव क्षेत्र के कारण मानसून एक बार फिर से सक्रिय हो गया है। जिसके कारण इन क्षेत्रों में रुक-रुक कर बारिश का सिलसिला जारी है। जबलपुर नर्मदा पुरम भोपाल संभाग सहित इंदौर और चंबल संभाग में आज बारिश देखने को मिल सकती है। इसके अलावा उज्जैन संभाग में भी कहीं-कहीं बारिश की संभावना जताई गई है।

पर्वतीय राज्य में बर्फबारी बूंदाबादी
उत्तराखंड हिमाचल प्रदेश सहित अन्य क्षेत्रों में बर्फबारी शुरू होने के आसार नजर आ रहे हैं। जिसके बाद एक बार फिर से देश में मौसम का मिजाज बदलेगा। साथ ही जल्द ही प्रदेश में ठंडक की दस्तक देखने को मिल सकती है। 24 सितंबर को उत्तराखंड में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया । साथ ही लोगों को सभी आकाशीय बिजली से सतर्क रहने की सलाह दी गई है। बता दें कि सितंबर के तीसरे सप्ताह में उत्तराखंड के कई क्षेत्रों में बर्फबारी देखने को मिली है।हिमाचल प्रदेश में भी बारिश का येलो ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।  भूस्खलन आदि से लोगों को चेतावनी जारी करते हुए मौसम विभाग ने 30 सितंबर तक मौसम ऐसे बने रहने के आसार हैं।