Delhi Weather Forecast : आज से खत्म हो जाएगा बारिश का इंतजार, एक सप्ताह तक बरसेंगे बदरा
 
आज से खत्म हो जाएगा बारिश का इंतजार, एक सप्ताह तक बरसेंगे बदरा

राजधानी में उमस भरी गर्मी से बेहाल लोगों का बारिश का इंतजार गुरुवार से खत्म हो सकता है। मौसम विशेषज्ञों का दावा है कि मानसूनी गर्त की दिशा में हुई हलचल की वजह से आगामी एक सप्ताह के भीतर उत्तर भारत के विभिन्न राज्यों में मानसूनी गतिविधियां देखने को मिलेंगी। इससे अधिकतम और न्यूनतम तापमान में कमी आने की संभावना है। साथ ही उमस भरी गर्मी का सितम खत्म होगा।

दिल्ली में बारिश

स्काईमेट वेदर के प्रमुख मौसम विज्ञानी महेश पलावत के मुताबिक, मानसूनी गर्त इस समय गंगा के मैदानी क्षेत्रों में पहुंच रही है। इस वजह से पंजाब, चंडीगढ़, हरियाणा, दिल्ली व उत्तर प्रदेश समेत अन्य राज्यों में मानसूनी गतिविधियां देखने को मिलेंगी। साथ ही अगले 24 घंटे में दिल्ली में अच्छी बारिश के आसार हैं। करीब एक सप्ताह तक मानसूनी गतिविधियां चलने के बाद मौसम करवट ले सकता है।

दिल्ली में बारिश

मौसम विभाग के मुताबिक, बीते 24 घंटे में अधिकतम तापमान सामान्य के बराबर 34.6 डिग्री सेल्सियस व न्यूनतम तापमान सामान्य से एक कम 26.7 डिग्री सेल्सियस रहा। दोपहर बाद मौसम ने करवट ली और कुछ जगहों पर बारिश की हल्की फुहारें दर्ज की गई, जबकि कुछ स्थानों पर धूप निकली रही। हवा में नमी का स्तर 65 से 87 फीसदी रहा।

दिल्ली-एनसीआर में बारिश

मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि अगले 24 घंटे में बादल छाए रहने के साथ हल्की से लेकर मध्यम स्तर की बारिश दर्ज की जा सकती है। अधिकतम तापमान 32 व न्यूनतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस तक रह सकता है। इसके अगले दिन भी कमोबेश यही स्थिति रहेगी व हल्की से लेकर मध्यम स्तर की बारिश दर्ज की जा सकती है। गौरतलब है कि बीते कई दिनों से दिल्ली में सूरज और बादलों के बीच लुकाछीपी का खेल चल रहा है, जबकि पश्चिमी राज्यों में अच्छी बारिश हो रही है। दिल्ली में इस माह में 220 मिमी  से अधिक बारिश हो चुकी है, जबकि सामान्य तौर पर बारिश का रिकॉर्ड 210.6 मिमी है। 

दिल्ली में बारिश

अधिकतम तापमान- 32 डिग्री सेल्सियस 
न्यूनतम तापमान - 26 डिग्री सेल्सियस 
सूर्यास्त का समय: 7:15 बजे
सूर्योदय का समय: 5:41 बजे
-दिनभर बादल छाए रहने के साथ हल्की से लेकर मध्यम स्तर की बारिश की संभावना। मध्यम रफ्तार से चलेगी हवा। हवा में नमी का स्तर अधिक रहेगा।