शादी में क्यो होती है लड़के की उम्र लड़की से ज्यादा, जानिए क्या है इसके पीछे का कारण
 
shadi

शादी एक ऐसा बंधन होता है जिसके बिना जिंदगी अधूरी सी लगने लगती है हमारे देश में शादी को लेकर बहुत सारे परंपरा है और रिवाज है शादी को एक पर्व की तरह माना जाता है ज्यादातर लोग धूमधाम से शादी करते हैं। शादी करने से पहले घरवाले लड़का और लड़की की उम्र में काफी विचार करते हैं

अगर बात की जाए शादी में उम्र के अंतर की तो कई कपल्स की शादी में लड़की लड़के से बड़ी होती है लेकिन ज्यादातर शादियों में हमेशा लड़की लड़के से छोटी उम्र की ढूंढ ली जाती है इस लेख में हम आपको बताएंगे कि हिंदू ग्रंथों के अनुसार शादी के लिए लड़की की उम्र ज्यादा क्यों होनी चाहिए।

क्या है इसके पीछे का कारण


बता दें कि शादी करने के लिए लड़का और लड़की की मैच्योरिटी लेवल में फर्क होता है लड़कियां लड़कों से जल्दी में चोर हो जाती हैं इसलिए ज्यादातर घरवाले लड़की की उम्र से बड़ा लड़का ढूंढते हैं लड़कियों में रिस्पांसिबिलिटी की फीलिंग शादी से पहले आ जाती है इसलिए उनके साथ भावनात्मक रूप से जुड़ने के लिए बड़ी उम्र के लड़कों को शादी करने का प्रचलन है ।


ग्रंथों में लिखा गया है कि बड़ी उम्र के लड़के से शादी करने के बाद दोनों में आपसी सम्मान बना रहता है और एक दूसरे का संकट के समय साथ दीया जा सकता है ।ग्रंथों में यह भी कहा गया है कि यदि कोई संतान शादी नही करता तो पितृऋण नही चुका पता। इसलिए हर संतान को शादी करने के लिए सलाह दी जाती है