Vastu Tips :घर के दरवाजे पर लगाए ये 5 चिन्ह, बिन बुलाए घर में आएगी सुख- समृद्धि
 
वास्तु

घर का दरवाजा एक ऐसी जगह होती है जहां से सभी शुभ और अशुभ चीजे प्रवेश करती है वास्तु शास्त्र के अनुसार घर मुख्य द्वार सबसे अहम होता है । इस शास्त्रों में लिखा गया है की मुख्य द्वार पर कुछ ऐसे चिन्ह लगाने चाहिए जिनसे घर में सकारात्मक ऊर्जा का वास हो सके साथ ही सुख और समृद्धि घर में प्रवेश कर सकें।

स्वास्तिक का चिन्ह

स्वस्तिक


घर के मुख्य द्वार पर स्वास्तिक का चिन्ह लगाना चाहिए । इसे लगाने से घर में सुख समृद्धि आती है और व्यक्ति धनवान बनता है इसे लगाने के पीछे भी एक कारण है। इसका कारण है कि स्वास्तिक के सु का मतलब होता है शुभ और आस्तिक का मतलब होता है होना। इन दोनों शब्दों का मतलब है शुभ होना इसलिए यदि इसे मुख्य द्वार पर लगाया जाएगा तो आपके घर में जरूर शुभ चीजों का आगमन होगा और घर धन-धान्य से भरा रहेगा। यह रोली से ही बनाए  जाये । 

 ॐ का चिन्ह
 

om-finalॐ चिन्ह अनहद का प्रतीक है हिंदू धर्म की है पुरानी परंपरा है कि घर के द्वार पर ओम का चिन्ह लगाना चाहिए यदि आप इसे घर के बाहर लगाती है तो यह न केवल आपको बुरी नजर से बचाता है बल्कि परिवार वालों को भी बीमारियों से बचाता है। यह एक रह का मंत्र है जिसे सुनकर अपने आप मन में शांति आ जाती है
यदि किसी कारणवश आपके घर में दरिद्रता आ गई है तो इस  चिन्ह को हल्दी कुमकुम से लगाए बहुत शुभ होगा।

श्री गणेश का चिन्ह

गणेश जी

हिंदू देवी देवताओं में सबसे पहले भगवान गणेश को पूजा जाता है इसके पीछे यह भावना है कि श्री गणेश का चिन्ह लगाने से आपके सभी काम सफल हो जाते हैं और घर में सुख शांति बनी रहती है। गणेश जी बहुत बुद्धिमान है और इनके साथ रिद्धि सिद्धि आती है । घर के बाहर यदि गणेश जी के धड़का चिन्ह बनाया जाए तो वह बहुत शुभ होता है। 

शुभ-लाभ का चिन्ह
 

1054722-shubh-labh

शुभ और लाभ हिंदू घरों के मुख्य द्वार पर दाईं और बाईं ओर लगा रहता है।  इन दोनों चिन्‍हों को एक साथ किसी शुभ अवसर या फिर त्योहार पर लगाया जाता है। आप साल भर में पुराने शुभ और लाभ की जगह नए शुभ और लाभ का चिन्ह भी लगा सकते हैं।

दरअसल, शुभ और लाभ भगवान गणेश जी के पुत्रों का नाम है। यदि आप इनके चिन्हों को घर के मुख्य द्वार पर लगाते हैं, तो आपके जीवन का हर पल शुभ होता है और आपको हर दिन लाभ मिलता है।