घर से भागकर अजमेर से उदयपुर आईं दो लड़कियां, कोर्ट में बोलीं- हम दोनों प्यार करते हैं, शादी कर पति-पत्नी की तरह रहना चाहते हैं
 
घर से भागकर अजमेर से उदयपुर आईं दो लड़कियां, कोर्ट में बोलीं- हम दोनों प्यार करते हैं, शादी कर पति-पत्नी की तरह रहना चाहते हैं

घर से भागकर अजमेर से उदयपुर आईं दो युवतियों को पुलिस ने जब डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में पेश किया तो उन्होंने कहा कि हम दोनों प्यार करते हैं और शादी कर पति-पत्नी की तरह रहना चाहते हैं। फिलहाल कोर्ट ने दोनों को नारी निकेतन भेज दिया है और बुधवार को इस मामले में दुबारा सुनवाई होगी। इस मुद्दे पर हंगामा तब हुआ जब दोनों युवतियों के परिजन उन्हें लेने के लिए अजमेर से उदयपुर आ गए। युवतियों ने उनके साथ जाने से इनकार कर दिया।

इस मामले के मुताबिक दोनों युवतियां ढाई माह पहले अपने घर से लापता हो गई थीं, परिजनों ने थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट भी दर्ज करवाई। दोनों के बालिग होने के कारण पुलिस ने भी इस मामले को गंभीरता से नहीं लिया। घर वाले खुद ढूंढते हुए उदयपुर जिले के झाड़ोल कस्बे में पहुंचे। जहां दोनों ने परिवारवालों के साथ जाने से इनकार कर दिया।
लड़कियां बोलीं- इसलिए घर से भागे
परिजनों ने युवतियों को साथ ले जाने के लिए एसीजीएम कोर्ट में सूचना देकर गुमशुदगी रिपोर्ट भी पेश की। झाड़ोल कोर्ट के आदेश पर दोनों युवतियों को उदयपुर डिस्ट्रिक्ट कोर्ट भेज दिया गया। युवतियों ने कोर्ट के समक्ष अपनी बात रख दी। कोर्ट ने दोनों को नारी निकेतन भेज दिया। अब बुधवार को सुनवाई होगी। मंगलवार को हुई सुनवाई के दौरान युवतियों ने कहा कि वे पिछले 3 सालों से अच्छी सहेलियां हैं। उन्हें किसी और से शादी नहीं करनी है। वे एक-दूसरे का जीवनसाथी बनकर रहना चा​हती हैं। उन्होंने कहा कि समलैंगिक संबंधों को परिवार और समाज कभी स्वीकार नहीं कर सकता। ऐसे में मजबूर होकर उन्हें घर और शहर से दूर भागना पड़ा है।

यूं हुई थी दोनों की मुलाकात
आपको बता दें कि अजमेर शहर की रहने वाली दोनों युवतियां एक ही समाज की हैं। 3 साल पहले सामाजिक कार्यक्रम में दोनों की मुलाकात हुई थी। इसके बाद दोनों का एक-दूसरे के घर आना-जाना शुरू हो गया। झाड़ोल थाने के एएसआई इन्द्रसिंह और अन्य पुलिसकर्मी दोनों युवतियों को लेकर उदयपुर आए। एक युवती की उम्र 21 साल और एक की 20 साल है। एक अजमेर के कॉलेज में फर्स्ट ईयर और दूसरी स्कूल में 12वीं की छात्रा है।