Shani Amavasya 2023: शनि अमावस्या पर साढ़ेसाती और ढैय्या से मिलेगी मुक्ति, करने होंगे ये उपाय....

 
ये उपाय....

Shani Amavasya 2023: पंचांग के अनुसार शनि 17 जनवरी 2023 को रात 8 बजकर 2 मिनट पर मकर राशि से निकल कर कुंभ राशि में प्रवेश किये है. कुंभ में शनि गोचर से मीन राशि वालों पर शनि की साढ़ेसाती तथा कर्क एवं वृश्चिक राशि वालों पर शनि की ढैय्या शुरू हो गई है.

इसके साथ ही कुंभ राशि वालों पर साढ़ेसाती का दूसरा चरण और मकर राशि वालों पर साढ़ेसाती का तीसरा चरण शुरू हो गया. इन राशि वालों को साढ़ेसाती और ढैय्या के प्रकोप से बचने के लिए शनि अमावस्या के दिन ये उपाय जरूर करने चाहिए. इससे शनि प्रसन्न होंगे और इन लोगों पर अपनी कृपा बरसाएंगे.

शनि अमावस्या 2023 कब?

पंचांग के अनुसार माघ माह के कृष्ण पक्ष की अमावस्या तिथि 21 जनवरी 2023 दिन शनिवार को है. यह अमावस्या चूंकि शनिवार को है. इस लिए यह शनि अमावस्या होगी. हिंदू धर्म में शनि अमवस्या का बहुत महत्व होता है. मान्यता है कि इस दिन ये उपाय करने से साढ़ेसाती और ढैय्या से मुक्ति मिलती है.  

शनि की साढ़ेसाती और ढैय्या से मुक्ति के उपाय


शनि अमावस्या पर शनि की पूजा करें और रक्षा स्त्रोत का पाठ करें. इससे शनि प्रसन्न होते हैं और भक्तों को कष्ट नहीं देते. जिनकी कुंडली में साढ़े साती चल रही है उनके लिए ये उपाय बेहद लाभदायक साबित होगा.

शनि अमावस्या पर निस्वार्थ भाव से गरीबों को सामर्थ्य अनुसार दान करें. इस दिन गुड़ से बनी चीजों का दान करने से साढ़े साती के प्रकोप से बचा जा सकता है.

शनि अमावस्या के दिन प्रातः काल स्नानादि के बाद शनि को सरसों का तेल, काला तिल अर्पित करें. मान्यता है इससे शनि की महादशा से राहत मिलती है.

शनि अमावस्या के दिन काले कुत्ते को मीठी रोटी खिलाने से ढैय्या के अशुभ प्रभाव कम होते हैं.

शनि अमावस्या पर पितरों की शांति के लिए कौए को भोजन देना पुण्यकारी माना जाता है. कौआ शनि देव का वाहन है. ऐसा करने से शनि की कृपा भी बरसती है.