मेरी कहानी: मेरी पत्नी को ब्रा पहनने से नफरत है, उसकी ये हरकत मुझे शर्मिंदा कर देती है
 
braless freedom

सवाल: मैं एक विवाहित व्यक्ति हूं। मेरी शादी को तीन साल हुए हैं। अभी हमें कोई बच्चा नहीं है। मेरी शादीशुदा जिंदगी में कोई परेशानी नहीं है, लेकिन मैं अपनी पत्नी की वजह से कई बार बहुत ज्यादा शर्मिंदा हो जाता हूं। दरअसल, मैंने अपनी पत्नी से कोरोना महामारी से ठीक पहले शादी की थी। हमारी शादी के कुछ दिनों बाद ही वर्क फ्रॉम होम का कल्चर शुरू हो गया। यह हम दोनों के लिए काफी अच्छा समय था, क्योंकि इस दौरान हम ज्यादा से ज्यादा वक्त एक-दूसरे के साथ बिता सकते थे। जब लॉकडाउन लगा, तो हम अपने माता-पिता के पास रहने आ गए।

हम सब साथ में बहुत अच्छे से रहते हैं। हमारे बीच कुछ ठीक है। भगवान के आशीर्वाद मेरी पत्नी और मेरी मां के बीच भी अच्छी बनती थी। लेकिन इस दौरान मेरे सामने जो एकमात्र समस्या खड़ी हो गई वह यह कि मेरी पत्नी को घर में ब्रा पहनने से नफरत है, जोकि कभी-कभी मेरे लिए बहुत ही अजीब हो जाता है। ऐसा इसलिए क्योंकि मेरे पिता घर पर रहते हैं। हमारे पड़ोसी भी ऐसे हैं, जिन्हें अपने घर से ज्यादा दूसरों के घरों में ताक-झांक करने में मजा आता है।

पहले मेरी पत्नी घर पर हल्के सूती सूट के साथ दुपट्टा पहनती थी, लेकिन अब उसने दुपट्टा लेना भी बंद कर दिया है। वह बिना दुपट्टे के पूरे घर में घूमती रहती है, जोकि मुझे बिल्कुल भी अच्छा नहीं लगता। ऐसा इसलिए क्योंकि न चाहते हुए भी सामने वाले का ध्यान इधर-उधर पड़ ही जाता है। मैं उसे बहुत बार बताता भी हूं। लेकिन वह फ्री-द-निप्पल #Freethenipple हैशटैग का इस्तेमाल करके मुझ पर गुस्सा होने लगती है। मुझे नहीं पता कि मैं उसे कैसे समझाऊं कि जब सयुंक्त परिवार में रहते हैं, तो यह सब बहुत ही ज्यादा अनुचित लगता है। (सभी तस्वीरें सांकेतिक हैं, हम यूजर्स द्वारा शेयर की गई स्टोरी में उनकी पहचान गुप्त रखते हैं)

लव कोच जिज्ञासा उनियाल कहती हैं कि यह कोई गंभीर मामला नहीं है। स्वस्थ बातचीत करके इस मुद्दे को सुलझाया जा सकता है। आपको अपनी पत्नी से बैठकर बात करनी चाहिए। आपको उन्हें बताना चाहिए कि सूती कुर्ते के नीचे ब्रा पहनने में कोई बुराई नहीं है। अगर वह दुपट्टा नहीं लेना चाहती हैं, तो इससे भी आपको कोई परेशानी नहीं है। लेकिन अगर वह हल्के कपड़े के नीचे ब्रा नहीं पहनती हैं, तो ये देखने में बहुत ज्यादा खराब लगता है। 

जैसा कि आपने कहा कि आप 29 साल की हैं और पेशे से बैंकर हैं। पिछले कुछ सालों से आपके माता-पिता आपके लिए एक भावी वर की तलाश कर रहे हैं। आपने अपने पैरेंट्स को समझाने की भी काफी कोशिश की, लेकिन वह आपकी बात मानने को तैयार नहीं हैं। मैं समझ सकती हूं कि आप शादी करने से पहले अपने लिए कुछ और साल चाहती हैं। लेकिन इसके बाद भी मैं आपको उनके साथ सहानुभूति रखने की सलाह दूंगी।

ऐसा इसलिए क्योंकि वह आपके भविष्य को लेकर चिंतित हैं। आपकी शादी करना उनकी सबसे बड़ी ज़िम्मेदारी है। एक सही वर की तलाश करने में कोई बुराई नहीं है। यदि आप सहज हैं, तो आप स्वयं इस प्रक्रिया में शामिल हो सकती हैं। यदि आपको कोई ऐसा व्यक्ति मिल जाए, जो आपको समझता हो, तो वह वह इंसान आपके लिए प्रतीक्षा करने को भी तैयार हो सकता है।

आपकी सभी बातों को सुनने के बाद मैं केवल यह कहना चाहती हूं कि आपके माता-पिता आपको तब तक किसी से शादी करने के लिए मजबूर नहीं कर सकते जब तक आप खुद से उन्हें मंजूरी नहीं दे देतीं। ऐसे में अगर वह आपके लिए सही लड़के देख रहे हैं, तो उन्हें देखने दें। उन्हें अपनी जिम्मेदारियों को पूरा करने में व्यस्त रहने दें।

इस बात की चिंता करने की बजाए कि वह क्या कर रहे हैं आप अपने व्यक्तिगत और व्यावसायिक विकास पर ध्यान दें। हो सकता है कि उनके द्वारा देखे गए लड़कों में से आपको अपने लिए कोई पसंद आ जाए और आपका शादी करने का फैसला एकदम सही साबित हो।