मेरी कहानी: मैंने 40 साल के बॉस से शादी कर ली और मुझे अपना फैसला सही लगता है

तीन साल पहले ही मैंने अपने 40 साल के बॉस के साथ शादी की है। ऐसा मैंने केवल इसलिए किया ताकि मैं पूरी जिंदगी सिंगल न रहूं।

 
 मैंने 40 साल के बॉस से शादी कर ली और मुझे अपना फैसला सही लगता है

लोग हमेशा से मेरे साथ बहुत दयालु रहे हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि मैं देखने में बहुत खूबसूरत हूं। मेरे माता-पिता और रिश्तेदारों ने भी हमेशा मेरी खूबसूरती की तारीफ की है, लेकिन मैं अपने नैन-नक्श को एक अभिशाप मानती हूं। ऐसा इसलिए क्योंकि ज्यादातर लोग मुझ पर केवल इसलिए मेहरबान रहते हैं ताकि वह एक लोकप्रिय लड़की के साथ चिपके रहें। मैं हमेशा ऐसे ही लोगों से घिरी रहती हूं, जो मेरी काबिलियत की नहीं बल्कि मेरी ब्यूटी की तारीफ करते हैं। मैं मुझे कभी भी कोई ऐसा व्यक्ति नहीं मिला, जिसने मेरे लुक्स से ज्यादा मुझे तवज्जो दी हो।

हो सकता है कि यह आपको सुनने में बहुत ज्यादा अटपटा लग रहा हो, लेकिन इस एक वजह से मेरा कभी कोई प्रेमी नहीं बन सका। मुझे कोई ऐसा नहीं मिला, जो वास्तव में मुझे समझ सके। हां, कॉलेज के समय में मैं एक लड़के को डेट कर रही थी, लेकिन वह केवल मेरे साथ इसलिए था ताकि वह दूसरों को दिखा सकें कि उसकी प्रेमिका भी खूबसूरत है। यही एक वजह भी है कि जब मुझे उसकी सच्चाई पता चली, तो मैंने किसी को भी डेट नहीं करने की कसम खाई। लोग अक्सर मुझसे पूछते थे कि मैं अभी तक सिंगल क्यों हूं। मैंने अपने लिए पार्टनर क्यों नहीं चुना, लेकिन मुझे क्या पता था कि एक समय बाद सबकुछ बदल जाएगा। 

मैंने 40 साल के एक आदमी के साथ काम करना शुरू कर दिया

-40-

कॉलेज खत्म होने के बाद मैंने एक फर्म में काम करना शुरू कर दिया था। मैं हमेशा से एक वकील बनाना चाहती थी ताकि एक व्यक्ति के रूप में मैं अपनी पहचान परिभाषित कर सकूं। यही एक वजह भी है कि मेरे काउंटर अटैकिंग कौशल से प्रभावित होकर मेरे बॉस ने मुझे कुछ दिनों बाद ही मुझे अच्छा वेतन देना शुरू कर दिया।

वह काफी दयालु थे। उन्होंने कभी भी मेरे साथ फ़्लर्ट करने या मेरे करीब आने की कोशिश नहीं की जैसा कि आमतौर पर दूसरे लोग करते थे। उनकी इसी आदत ने मुझे उनकी तरफ प्रभावित किया। मैंने सोचा जब वह मेरे साथ इतने अच्छे हैं, तो क्यों न मैं भी इस फर्म को अपना 100% दूं। 

डिनर पर मैंने अपने बॉस को नोटिस करना शुरू किया

काम करते हुए मैंने उनके साथ कई मुकदमे लड़े, जो न केवल सफल रहे बल्कि हम सभी को अच्छी जीत भी मिली। मेरी लगन को देखते हुए मेरे बॉस ने भी मेरी काफी सराहना की। इसके बाद हम सभी लोग कंपनी डिनर पर गए, जहां मैं-मेरे सहयोगी और बॉस एक-दूसरे से अच्छे से परिचित हुए। इस दौरान हम सभी ने अपने निजी जीवन के बारे में भी काफी बातचीत की। तभी मेरे एक कलीग ने मुझसे पूछा कि मैं सिंगल क्यों हूं? मैंने अभी तक शादी क्यों नहीं की?

उसकी बातों को सुनकर मुझे काफी बुरा लगा, तभी मेरे बॉस ने खुलासा करते हुए कहा कि वह भी अभी तक अविवाहित हैं। वह आज भी एक सुंदर साथी की तलाश में हैं। हालांकि, 40 की उम्र में उनका सिंगल होना मेरे लिए कुछ ऐसा था, जिसकी मैं कभी उम्मीद भी नहीं कर सकती थी। लेकिन फिर भी मुझे अच्छा लगा।

शायद ऐसा इसलिए क्योंकि मैं कहीं न कहीं उन्हें पसंद करती थी। इस घटना के बाद मेरा ध्यान उनकी तरफ गया। मैंने अपने बॉस को नोटिस करना शुरू कर दिया था। उन्होंने सभी को वास्तव में अच्छा काम करने के लिए प्रेरित किया और मैं वास्तव में उनसे प्रभावित हो रही थी। 

मैं गुस्से में बाहर आ गई

मैं अपने बॉस को पसंद करने लगी थी। एक दिन मेरे बॉस ने मुझसे लंच के लिए बाहर चलने को कहा। पहले तो मुझे काफी अजीब लगा, लेकिन बाद में मैं मान गई। दरअसल, वह मेरे पास शादी करने का प्रस्ताव लेकर आए थे। उनकी बातों को सुनकर मैं काफी हैरान रह गई थी। मुझे उनकी इस बात को सुनकर इतना गुस्सा आया कि अपनी मेज से उठकर बाहर चली आई। लेकिन कुछ ही देर बात मैं उनसे माफी मांगने के लिए वापस गई। मैंने विनम्रता से उनसे मांफी मांगते हुए उन्हें मना कर दिया।

उनकी बात ने मेरा दिल जीत लिया

अचानक से उन्होंने कहा कि 'कम से कम मेरी बात तो सुन लो। काम के प्रति तुम्हारे जुनून और उत्साह को देखकर मैं पहले दिन से ही मैं तुम्हारी तरफ प्रभावित हो गया था। मैं तुमसे झूठ नहीं बोलना चाहता मैं तुम्हें पसंद करने लगा था। हम दोनों ही एक जीवन साथी की तलाश में हैं। मैं अकेला नहीं रहना चाहता हूं।

शायद तुम्हारे साथ भी ऐसा ही है। यही एक वजह भी है कि मैंने तुम्हारे सामने अपने दिल की बात रख दी। उनकी इस बात ने मेरा दिल जीत लिया था। अपनी बात को कहने के बाद वह वहां से चले गए।

फिर हमने शादी कर ली

मैंने उनकी बात पर ध्यान दिया, जिसके बाद मैंने उनसे डेट पर चलने को कहा। इस दौरान हम दोनों ने ही एक-दूसरे को धीरे-धीरे स्वीकार करना शुरू कर दिया था। इसका मुख्य कारण यह था कि मैं भी जीवन भर अकेला नहीं रहना चाहती थी। वह काफी अमीर हैं और सबसे बड़ी बात वह काफी अच्छे इंसान हैं, जो ताउम्र मेरी देखभाल कर सकते हैं।

उन्होंने हमेशा मुझे काफी स्पेशल महसूस कराया है। कुछ दिनों की डेटिंग की बाद हमने साल 2019 की गर्मियों में शादी कर ली। हमारी शादी को लगभग 3 साल हो चुके हैं। मैं उनके साथ काफी खुश हूं। मुझे उनसे काफी प्यार है। मुझे लगता है कि मेरा फैसला सही था।