मुझे अपनी भाभी से प्यार हो गया, लेकिन घरवाले हमारी शादी के लिए कभी नहीं मानेंगे
 
मुझे अपनी भाभी से प्यार हो गया, लेकिन घरवाले हमारी शादी के लिए कभी नहीं मानेंगे

इस रिश्ते को संभालने के लिए कुछ सावधानियां बरतने की जरूरत भी पड़ती है। इस आदमी के साथ भी ऐसा ही हुआ, जिसे अपनी भाभी से ही प्यार हो गया।

सवाल: मैं 36 साल का एक अविवाहित आदमी हूं। मेरी समस्या यह है कि मुझे अपनी ही भाभी से प्यार हो गया। दरअसल, मेरा भाई जोकि मुझसे तीन साल बड़ा है, दो साल पहले उसका तलाक हो गया था।

उसकी पूर्व पत्नी यानी कि मेरी भाभी हम दोनों एक ही उम्र के हैं। तलाक की लंबी प्रक्रिया के दौरान हम दोनों एक-दूसरे के बहुत करीब आ गए।

मेरे भाई से अलग होने के बाद उन्होंने भले ही मेरे परिवार से सारे रिश्ते तोड़ लिए हों, लेकिन वह लगातार मेरे साथ संपर्क में बनी रहीं। यही एक वजह भी है कि हमारी दोस्ती धीरे-धीरे प्यार में बदल गई।

इसके पीछे की एक वजह यह भी है

कि हम दोनों अपनी पेशेवर प्रतिबद्धताओं के कारण भी एक-दूसरे मिलते रहे। दरअसल, हम दोनों एक ही पेशे से आते हैं। हम दोनों की पहले से भी अच्छी बनती थी, लेकिन तलाक के बाद हम एक-दूसरे के प्यार में पड़ गए।

हम दोनों एक-दूसरे से बहुत प्यार करते हैं। हम शादी भी करना चाहते हैं, लेकिन समस्या यह है कि हम दोनों के परिवार वाले हमें कभी भी साथ नहीं रहने देंगे।

हमें साथ देखने से अच्छा वह मरना पसंद करेंगे। मैं भी अपने परिवार को नहीं छोड़ सकता हूं। मेरे लिए परिवार बहुत मायने रखता है। यही एक वजह भी है कि मुझे समझ नहीं आ रहा कि हमें क्या करना चाहिए?

मैं अपने परिवार को कैसे समझाऊं कि हम दोनों साथ में खुश रहेंगे 

फोर्टिस हेल्थकेयर में मानसिक स्वास्थ्य और व्यवहार विज्ञान विभाग की प्रमुख कामना छिब्बर कहती हैं कि इस तरह की स्थिति का सामना करना बहुत से लोगों के लिए बहुत मुश्किल हो जाता है।

ऐसा इसलिए क्योंकि इस दौरान अपने संबंधों के बारे में परिवार को समझाना न केवल बहुत कठिन होता है बल्कि इसकी चाहकर भी इजाजत नहीं दी जा सकती है।

मुझे यकीन है कि आप दोनों इस तरह के खुलासे के संभावित नतीजों से भी अच्छी तरह वाकिफ होंगे। आप दोनों के बीच देवर-भाभी का रिश्ता था,

जोकि अब आपसी प्यार में बदल चुका है। यही एक वजह भी है कि आपका रिश्ता सामने आने के बाद बहुत सी चीजें बिगड़ सकती हैं।

भाई को भी बताना होगा

अगर आप दोनों ने अपने रिश्ते को लेकर निर्णय ले ही लिया है, तो सबसे पहले आपको अपने भाई के साथ इस पर चर्चा करनी होगी। ऐसा इसलिए क्योंकि आप दोनों के एक होने में उनकी स्वीकृति बहुत ज्यादा मायने रखती है।

ऐसा इसलिए क्योंकि वह आपके भाई की पूर्व पत्नी हैं। किसी भी इंसान के लिए अपनी पत्नी को अपनी भाभी के रूप में बर्दाश्त करना बहुत मुश्किल होता है।

यही नहीं, अपने संबंधों के बारे में आपको अपने परिवार के बाकी सदस्यों से भी बात करनी पड़ेगी। हालांकि, इस दौरान एक बात का ध्यान रखें कि यह स्थिति बहुत ज्यादा जटिल है, जिसे ठीक होने में काफी समय लग सकता है।

इसके लिए आप दोनों को बहुत ही धैर्य से काम लेना होगा। आप दोनों को न केवल हर सावधानी बरतनी होगी बल्कि एक-दूसरे का सपोर्ट सिस्टम भी बनना पड़ेगा।

निर्णय के लिए भी तैयार रहें

बहुत से लोगों को कहते आपने कहते हुए सुना होगा कि देवर-भाभी के रिश्ते में एक सीमा तय करना बहुत जरूरी है। लेकिन आप दोनों ही इस सीमा को लांघ चुके हैं।

ऐसे में आप दोनों को हर तरह के निर्णय के लिए भी तैयार रहना पड़ेगा। अपने रिश्ते का खुलासा करते समय आप दोनों को आपसी सम्मान व मर्यादा भी बरकरार रखनी पड़ेगी।

कोई भी ऐसा कदम उठाने से बचें, जोकि आप दोनों के परिवार वालों के लिए शर्मिंदगी का कारण बन सके। आप चाहें तो इसके लिए किसी काउंसलर की मदद भी ले सकते हैं।