Delhi Weather: मौसम विभाग ने जारी किया नया अपडेट, जताई भारी बारिश की आशंका
मौसम विभाग देश की राजधानी में गुरूवार को बारिश की संभावना जताई है. आईएमडी का कहना है कि गुरूवार को राष्ट्रीय राजधानी में बादल छाए रहेंगे.
 
rain in dhili
भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने दिन में मध्यम बारिश की संभावना जताई है. आईएमडी के एक अधिकारी ने कहा, ''आसमान में बादल छाए रहेंगे और मध्यम बारिश और गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है. दिन का अधिकतम तापमान 33 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने की संभावना

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी में बृहस्पतिवार की सुबह आंशिक रूप से बादल छाए रहे और न्यूनतम तापमान 26.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. मौसम विभाग के कार्यालय ने यह जानकारी दी. 

आईएमडी ने जताई मध्यम बारिश की संभावना

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने दिन में मध्यम बारिश की संभावना जताई है. आईएमडी के एक अधिकारी ने कहा, ''आसमान में बादल छाए रहेंगे और मध्यम बारिश और गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है. दिन का अधिकतम तापमान 33 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने की संभावना है.'' मौसम विभाग के मुताबिक बृहस्पतिवार को सुबह साढ़े आठ बजे तक, बीते 24 घंटे की अवधि के दौरान सात मिलीमीटर बारिश हुई. दिल्ली में बृहस्पतिवार को सुबह साढ़े आठ बजे सापेक्षिक आर्द्रता 83 फीसदी दर्ज की गयी.

श्रीनगर में हुई 122 सालों में सर्वाधिक बारिश

श्रीनगर में जून-जुलाई में औसत से 107 फीसद अधिक वर्षा हुई जो 122 सालों में सर्वाधिक है. एक निजी मौसम पूर्वानुमान कंपनी ने बुधवार को यह जानकारी दी. ट्विटर पर ‘कश्मीर वैदर’ चलाने वाले फैजान आरिफ ने कहा, ‘‘जम्मू कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में कम से कम 1901 के बाद इन 61 दिनों के दौरान सबसे अधिक वर्षा हुई.’’ 

उन्होंने कहा कि यहां राममुंशी बाग में स्थापित वेधशाला में पहले दो मानसूनी महीनों में 230 मिलीमीटर वर्षा हुई जबकि औसत वर्षा 110.9 मिलीमीटर है यानी 107 फीसद अधिक वर्षा हुई. आरिफ ने कहा, ‘‘पहले मानसूनी महीने जून में इस ग्रीष्मकालीन राजधानी में 42 मिलीमीटर औसत वर्षा से कहीं बहुत ज्यादा 107.मिलीमीटर वर्षा हुई . जुलाई में शहर में 122.1 मिमी वर्षा हुई जबकि औसत वर्षा 68. मिमी है. ’’ उन्होंने कहा कि जून में शहर में सर्वाधिक 142.1 मिलीमीटर वर्षा 1996 में हुई थी जबकि जुलाई में 1988 में सर्वाधिक 182.6 मिलीमीटर वर्षा हुई थी.