Chanakya Niti: इन चार कामों को करने के बाद जरूर करें स्नान, नहीं तो जीवन पर पड़ेगा बुरा असर

आचार्य चाणक्य को पूरी दुनिया एक कुशल अर्थशास्त्री, लोकप्रिय राजनयिक और प्रसिद्ध राजनीतिज्ञ के रूप में जानती है। दुनिया भर में कई लोग सफलता पाने के लिए आचार्य चाणक्य की नीतियों का पालन करते हैं। उनकी नीतियों का संग्रह 'चाणक्य नीति' है। जिसमें आचार्य चाणक्य ने कई ऐसी बातों का जिक्र किया है जो एक बेहतर और सफल जीवन जीने के लिए जरूरी हैं।
 
इन चार कामों को करने के बाद जरूर करें स्नान

Chanakya Niti: आचार्य चाणक्य को पूरी दुनिया एक कुशल अर्थशास्त्री, लोकप्रिय राजनयिक और प्रसिद्ध राजनीतिज्ञ के रूप में जानती है। दुनिया भर में कई लोग सफलता पाने के लिए आचार्य चाणक्य की नीतियों का पालन करते हैं। उनकी नीतियों का संग्रह 'चाणक्य नीति' है। जिसमें आचार्य चाणक्य ने कई ऐसी बातों का जिक्र किया है जो एक बेहतर और सफल जीवन जीने के लिए जरूरी हैं। अगर आप जीवन में सफलता पाना चाहते हैं तो आचार्य चाणक्य की कुछ नीतियों का पालन जरूर करें। आचार्य चाणक्य ने चार ऐसे कार्यों के बारे में बताया है, जिन्हें करने के बाद व्यक्ति को स्नान अवश्य करना चाहिए। नहीं तो जीवन भर परेशानियों से घिरे रहना पड़ेगा।

तेल मालिश के बाद
आचार्य चाणक्य के अनुसार व्यक्ति को अपने शरीर की तेल से मालिश करने के बाद स्नान करना चाहिए। क्‍योंकि शरीर पर तेल की मालिश करने से ब्‍लड सर्कुलेशन तेज हो जाता है और रोमछिद्रों से पसीना निकलने लगता है इसलिए तेल की मालिश करने के बाद ही नहाएं।

कब्रिस्तान से आने के बाद
धर्म शास्त्रों में भी बताया गया है कि किसी के श्मशान या श्मशान भूमि से लौटने के बाद सबसे पहले स्नान करना चाहिए। क्योंकि जब कोई इंसान मरता है तो उसके आसपास कई तरह के कीटाणु पनप जाते हैं, जो हवा के जरिए हमारे शरीर और कपड़ों से चिपक जाते हैं। इसलिए श्मशान या शमशान घाट से आते ही नहा धोकर कपड़े धो लें।

सेक्स के बाद
स्त्री हो या पुरुष दोनों को शारीरिक संबंध बनाने के बाद नहाना चाहिए। अगर वह ऐसा नहीं करती हैं तो उनमें संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है इसलिए जब भी प्रेम प्रसंग हो तो उसके बाद ही स्नान कर लेना चाहिए। चाणक्य ने कहा है कि स्वच्छ शरीर से ही स्वस्थ शरीर आता है और स्वस्थ शरीर के लिए स्नान आवश्यक है। प्रेम प्रसंग के बाद शरीर अपवित्र हो जाता है, इसलिए स्नान करना चाहिए।

बाल कटवाने के बाद
चाणक्य ने बताया कि जब भी आप बाल कटवाने जाएं तो बाद में नहाना न भूलें, बाल शरीर से चिपक जाते हैं और बिना नहाए शरीर से बाहर नहीं निकल सकते। छोटे और महीन बाल पेट में चले जाएं तो शारीरिक दर्द हो सकता है। साथ ही इससे इंफेक्शन भी हो सकता है।