Amazon Layoffs: भारत में कर्मचारियों की छंटनी पर Amazon की सफाई, सरकार को दिया ये जवाब

Amazon Jobs: अमेजन को केंद्रीय श्रम मंत्रालय के जरिए पिछले हफ्ते भारत में छंटनी के बारे में एक नोटिस भेजा था, जिसमें उसके प्रतिनिधियों को सुनवाई में भाग लेने के लिए कहा गया था. वहीं सरकार को जवाब देते हुए अमेजन का कहना है कि उसने किसी भी कर्मचारी को नहीं निकाला है.
 
 
Amazon

Amazon Prime: ऐसी खबरें सामने आई थी कि ई-कॉमर्स की दिग्गज कंपनी अमेजन ने वैश्विक स्तर पर अपने हजारों कर्मचारियों को नौकरी से निकाल दिया. हालांकि अब इस मामले में अमेजन ने सफाई दी है. अमेजन का कहना है कि उसने किसी भी कर्मचारी को बर्खास्त नहीं किया है और ये सभी इस्तीफे 'स्वैच्छिक पृथक्करण कार्यक्रम ' के हिस्से के रूप में स्वैच्छिक थे.

अमेजन का जवाब

दरअसल, अमेजन को केंद्रीय श्रम मंत्रालय के जरिए पिछले हफ्ते भारत में छंटनी के बारे में एक नोटिस भेजा था, जिसमें उसके प्रतिनिधियों को सुनवाई में भाग लेने के लिए कहा गया था. वहीं सरकार को जवाब देते हुए अमेजन का कहना है कि उसने किसी भी कर्मचारी को नहीं निकाला है, लेकिन कुछ ने Voluntary Disengagement Program के तहत कंपनी छोड़ दी है.

और होगी कटौती

बता दें कि पिछले हफ्ते अमेजन ने घोषणा की कि वह वैश्विक स्तर पर 10,000 कर्मचारियों को जाने देगी. कंपनी की भारतीय शाखा ने कर्मचारियों को स्वेच्छा से छोड़ने के लिए अनुरोध भेजा था. कंपनी ने यह भी कहा था कि और अधिक भूमिका में कटौती होगी क्योंकि इसकी वार्षिक योजना प्रक्रिया अगले वर्ष तक विस्तारित होगी.

प्रत्येक व्यवसाय में बदलाव

 

कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एंडी जेसी ने कहा कि कंपनी एक वार्षिक परिचालन योजना समीक्षा के बीच में थी, जहां वह निर्णय ले रही थी कि उसके प्रत्येक व्यवसाय में क्या बदलाव होना चाहिए. अमेजन ने अभी तक यह तय नहीं किया है कि इस कदम से कितनी अन्य भूमिकाएं प्रभावित होंगी.

कटौती का लक्ष्य

बता दें कि ऑनलाइन रिटेलर अमेजन ने बुधवार को अपने समूह में कुछ कर्मचारियों को निकाल दिया और इस मामले से परिचित एक व्यक्ति ने कहा कि कंपनी ने अभी भी लगभग 10,000 लोगों की कटौती का लक्ष्य रखा है, जिसमें इसके रिटेल डिवीजन और मानव संसाधन शामिल हैं.