Amazon Academy: लॉन्च के दो साल बाद ही बंद होगा Amazon Academy! जानें क्या है वजह

अमेजन का एडटेक प्लेटफॉर्म अमेजन एकेडमी बंद होने वाला है. आइए जानते हैं कि आखिर एडटेक प्लेटफॉर्म अब बंद क्यों हो रहे हैं.

 
Amazon Academy: लॉन्च के दो साल बाद ही बंद होगा Amazon Academy! जानें क्या है वजह

Amazon Academy: अमेजन ने गुरुवार को कहा कि वह भारत में हाई-स्कूल के स्टूडेंट्स के लिए अपने ऑनलाइन एजुकेशन प्लेटफॉर्म को बंद करने वाला है. कंपनी ने अपने एडटेक प्लेटफॉर्म Amazon Academy के बंद होने की कोई वजह नहीं बताई है. हालांकि, इसे लॉन्च के दो साल के भीतर ही बंद करने की तैयारी हो रही है. अमेजन एकेडमी को जनवरी 2021 में लॉन्च किया गया था. दरअसल, कोविड महामारी की वजह से ऑनलाइन एजुकेशन तेजी से बढ़ रहा था. इस ध्यान में रखते हुए लाभ कमाने के लिए अमेजन एकेडमी की शुरुआत की गई थी.


अमेजन एकेडमी प्लेटफॉर्म पर पर जेईई जैसे कॉम्पिटेटिव एग्जाम की कोचिंग मुहैया करवाई जाती थी. अमेजन के प्रवक्ता ने कहा, ‘मूल्यांकन करने के बाद हमने फैसला किया है कि अमेजन एकेडमी को बंद किया जाएगा. हम लोग वर्तमान ग्राहकों का ध्यान रखते हुए चरणबद्ध तरीके से इस कार्यक्रम को समाप्त कर रहे हैं.’

प्रवक्ता ने कहा, ‘अमेजन में हम बड़ा सोचते हैं और प्रयोग करते हैं. ग्राहकों को खुश करने के लिए नए विचारों में निवेश करते हैं. ग्राहक मूल्य प्रदान करने के लिए हम अपने प्रोडक्ट और सर्विस की प्रगति और क्षमता का लगातार मूल्यांकन करते हैं. हम नियमित रूप से इन आकलनों के आधार पर समायोजन करते हैं.’

सब्सक्राइबर्स 2024 तक यूज कर पाएंगे प्लेटफॉर्म
हालांकि, अमेजन एकेडमी के सब्सक्राइबर्स को अपने फुल कोर्स मटैरियल की पढ़ाई करने के लिए एक साल तक विस्तारित समय मिलेगा. सब्सक्राइबर्स अक्टूबर 2024 तक प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल कर पाएंगे. वहीं, जिन स्टूडेंट्स ने वर्तमान एकेडमिक बैच में एडमिशन लिया हुआ था, उन्हें फुल रिफंड दिया जाएगा.


क्यों बंद हो रहे प्लेटफॉर्म?
अमेजन एकेडमी को बंद करने का मामला ऐसे समय पर सामने आया है, जब कई सारे एडटेक कंपनियों पर ताला लग रहा है. इसके पीछे की वजह ये है कि कोविड लॉकडाउन खत्म होने के बाद अब देशभर में स्कूल और कोचिंग सेंटर्स फिर से खुल रहे हैं. इस वजह से एडटेक कंपनियों के ऊपर दबाव बन रहा था. पिछले महीने ही बायजू ने अपने यहां 2500 कर्मचारियों की छुट्टी करने का ऐलान किया था, ताकि लाभ बढ़ाया जा सके. अनएकेडमी, टॉपर, व्हाइटहैट जूनियर और वेदांतू ने पहले ही छंटनी का ऐलान कर दिया है.