अपराध

सिरसा में यू-ट्यूब चैनल पर कमीशन लेकर बताया जाता था सट्टे का नंबर, सीआइडी ने किया पर्दाफास

आज के समय में सोशल मीडिया नेटवर्क पर बहुत से ऐसे चैनल हैं जो काफी रौचक जानकारियां देते हैं। सिरसा के सीआइडी विभाग ने जिले के चौपटा क्षेत्र में एक ऐसे ही मामले से पर्दा उठाया है। जहां युवक नंबरों पर लगने वाले सट्टे का नंबर यू ट्यूब पर बनाए अपने चैनल पर डाल देता था। जिसके बदले वह उनसे मोटी रकम वसूल करता था।

जब पुलिस के सामने यह मामला आया तो पुलिस ने जांच शुरू की। जिसमें पता लगा कि नाथुसरी चौपटा का रहने वाला सतबीर पहले गांव में बैल्डिंग की दुकान करता था। लेकिन कुछ माह बाद उसने दुकान बंद कर दी।

जिसके बाद उसने एक पुरानी सेंट्रों कार भी खरीदी और पुराने मकान को तोड़कर नया मकान बना लिया। चौपटा थाना पुलिस ने आरोपी को कई धाराओं के तहत मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है। आरोपित की पहचान सतबीर उर्फ सत्तु निवासी नाथूसरी कलां के रूप में हुई है।

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक आरोपित सतबीर यू ट्यूब पर आल गेम बादशाह राधे राधे व आल गेम बादशह 2 के नाम से चैनल बनाए हुए थे। जिन पर वह वीडियो डालकर अगले दिन आने वाले नंबर की जानकारी देता था।

इन चैनलों को करीब 7700 लोग फोलो कर रहे थे। वहीं मोबाइल में व्हाट्सएप ग्रुप भी थे, जिसमें सभी वही लोग थे जो सट्टा लगाते थे। जिनका नंबर लगता था व उनसे पैसे लेते था। रूपयों का सारा लेन देन पेटीएम व गूगल पे के जरिये होता था।

पूरे मामले की जांच कर रहे डीएसपी डबवाली ने बताया कि आरोपित सतबीर, उसके बेटी अमित, भाई दलीप कुमार व एक अन्य नेकीराम से पूछताछ की गई है। जिसमें पाया गया कि सतबीर करीब एक साल से यह चैनल चला रहा था जो कुछ दिन पहले ही बंद किया है। चैनल के माध्यम से रूपयों का ऑनलाइन होने की बात को सतबीर ने मान लिया है, लेकिन उसका कहना है कि बेटे अमित का इसमें कोई रोल नहीं है।

नाथूसरी चौपटा थाना प्रभारी सत्यवान शर्मा ने बताया कि नाथूसरी कलां निवासी व्यक्ति द्वारा यू टयूब चैनल बनाकर सट्टे के नंबर बताने का मामला सामने आया है। पुलिस जांच कर रही है। जल्द ही आरोपित को काबू किया जाएगा।

ताजा खबरें

To Top