बड़ी खबरें

घर से बाहर रहने वालों को अब वोट के लिए नहीं लौटना पड़ेगा गांव, सरकार ने शुरू की ये योजना

By-elections in Elnabad will be held for the third time, know the full political history

My Sirsa News

घर से दूर रहने वाले मतदाताओं को चुनाव में वोट देने के लिए अब घर जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी।किसी भी लोकसभा या विधानसभा चुनाव से पहले कई लोग वोट डालने के लिए अपने गांव जाते हैं। ये वो लोग हैं जिनके वोटर लिस्ट में नाम अपने गांव या शहर में होते हैं, न कि वहां, जहां वो काम कर रहे हों।

People living outside the home will no longer have to return to the village for votes, this scheme started from the governmen

लेकिन अब जल्द ही इन लोगों को वोट डालने के लिए अपने घर जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। दरअसल चुनाव आयोग एक ऐसी ही योजना पर काम कर रहा है, जिसमें कहीं से भी लोग वोट डाल सकेंगे। चुनाव आयोग ने इस प्रोजेक्ट को रिमोट वोटिंग (Remote Voting Project) का नाम दिया है। इसके लिए जल्द ही देश भर में मॉक ट्रायल की शुरुआत की जाएगी।

People living outside the home will no longer have to return to the village for votes, this scheme started from the governmen

राष्ट्रीय मतदाता दिवस के मौके पर मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने बताया कि वोटर को देश में किसी भी मतदान केंद्र पर जाकर वोट देने की योजना शुरू करने पर चुनाव आयोग काम कर रहा है। मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा, ‘हमने IIT मद्रास और अन्य संस्थानों के साथ मिलकर रिमोट वोटिंग के प्रोजेक्ट पर पहले ही रिसर्च शुरू कर दी है और इसमें हम आगे भी बढ़ रहे हैं।’

People living outside the home will no longer have to return to the village for votes, this scheme started from the governmen

किसी भी मतदान केंद्र पर वोटिंग

चुनाव आयोग की इस योजना से लाखों लोगों को फायदा होगा। दरअसल नौकरी और रोजगार की तलाश में लोग घर से बाहर जाकर काम करते हैं। लेकिन अगर रिमोट वोटिंग को हरी झंडी मिल जाती है तो फिर इससे कोई भी वोटर किसी भी मतदान केंद्र से वोट डाल सकेगा।

People living outside the home will no longer have to return to the village for votes, this scheme started from the governmen

विदेश में रह रहे लोगों को मिलेगा फायदा

चुनाव आयोग विदेश में रह रहे मतदाताओं के लिए पोस्टल बैलेट की सुविधा शुरू करने पर भी विचार कर रहा है। उन्होंने कहा कि कानून मंत्रालय फिलहाल इस पर विचार कर रहा है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ताजा खबरें

To Top