त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब देब का इस्तीफा, आज शाम होगा विधायक दल की बैठक में नए CM पर फैसला

बिप्लब देब ने 2018 में त्रिपुरा के मुख्यमंत्री का पद संभाला था. बताया जा रहा है कि पार्टी में उनके खिलाफ तेजी से नाराजगी बढ़ रही थी. वहीं राज्य में अलगे साल विधानसभा चुनाव होने हैं इसलिए पार्टी कोई रिस्क नहीं लेना चाह रही थी.

 
त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब देब का इस्तीफा, आज शाम होगा विधायक दल की बैठक में नए CM पर फैसला

त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब देब ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. उन्होंने अपना इस्तीफा राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य को सौंप दिया है. शुक्रवार को उन्होंने गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात की थी, जिसके बाद उन्होंने पद छोड़ दिया.

आलाकमान के कहने पर छोड़ा पद

बिप्लब देब मीडिया से कहा कि उनके लिए पार्टी का फैसला सर्वोपरि है. आलाकमान के कहने पर उन्होंने अपना पद छोड़ दिया है. अब वे पार्टी के एक अनुशासित सिपाही के तौर पर काम करते रहेंगे. हालांकि उन्होंने नए सीएम कौन होगा, इस सवाल पर कोई जवाब नहीं दिया है.

बिप्लब देब को लेकर संगठन में थी नाराजगी

बिप्लब देब को लेकर संगठन में नाराजगी चल रही है. दो विधायकों ने पार्टी भी छोड़ दी थी. विधानसभा चुनावों की रणनीति को लेकर बीजेपी कोई रिस्क नहीं लेना चाहती है. मालूम हो कि अगले साल 2023 में राज्य में चुनाव होने हैं. गुजरात की तर्ज पर त्रिपुरा में मंत्री से लेकर संगठन तक में बड़े फेरबदल हो सकते हैं. इस्तीफे के बाद वे संगठन में किसी पद को संभाल सकते हैं.

शाम को होगी बीजेपी विधायक दल की बैठक

वहीं बिप्लब के इस्तीफे के बाद शाम को बीजेपी विधायक दल की बैठक भी होगी, जिसमें नए सीएम को लेकर चर्चा होगी. वहीं केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव और भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव विनोद तावड़े को त्रिपुरा में पर्यवेक्षक बनाया गया है.

2018 में बने थे सीएम, 2023 में होने हैं चुनाव

बिप्लव देब 2018 में सीएम बने थे. अगले साल त्रिपुरा में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं. ऐसे में माना जा रहा है कि चुनाव से पहले भाजपा ने पार्टी को मजबूत करने के लिए नये चेहरे को राज्य की कमान सौंपने का कदम उठाया है.