हरियाणा के गांवाें में अब रात को नहीं लगेंगे बिजली के कट, बिजली निगम ने बदला शेड्यूल

गांवों में रात के समय लग रहे बिजली के कट अब नहीं लगेंगे। बिजली निगम ने अब गांवों में सप्लाई का शेड्यूल बदल दिया है। अब गांवों में 24 घंटे के अंदर 16 घंटे की बिजली सप्लाई दो शिफ्टों में मिलेगी।

 
hisar-common-man-issues,news,state,Haryana power cut, power cut in villages, electricity supply in villages, electricity corporation schedule, hisar news, haryana news, power cut problem, electricity supply new schedule, हरियाणा बिजली कट, गांवों में बिजली कट, गांवों में बिजली सप्‍लाई, बिजली निगम बिजली शेड्यूल, हिसार न्‍यूज, हरियाणा न्‍यूज, बिजली कट समस्‍या, बिजली सप्‍लाई नया शेडयूल,News,National News,Haryana news   hindi news, Jagran news

बहादुरगढ़ : प्रदेश में अप्रैल से ही गांवों में रात के समय लग रहे बिजली के कट अब नहीं लगेंगे। बिजली निगम ने अब गांवों में सप्लाई का शेड्यूल बदल दिया है। अब गांवों में 24 घंटे के अंदर 16 घंटे की बिजली सप्लाई दो शिफ्टों में मिलेगी। ऐसे में ग्रामीण रात के समय चेन से सो सकेंगे। दरअसल अप्रैल में बिजली संकट के कारण शहर और गांवों में परेशानी बढ़ गई थी।

दिन के साथ ही नहीं रात में भी लंबे-लंबे कट लगते रहे। एक तरफ बिजली की कमी और दूसरी तरफ गर्मी बढ़ रही है। ऐसे में दिक्कत होना स्वाभाविक है। आम तौर पर शहरों में तो 24 घंटे बिजली सप्लाई का शेड्यूल है और गांवों में मौसम के हिसाब से आपूर्ति की जाती है। जो गांव जगमग योजना से जुड़े हैं, उनमें तो विभाग की ओर से काेई शेड्यूल कट तय नहीं किया जाता, लेकिन जो गांव जगमग योजना से नहीं जुड़े हैं, उनमें गर्मियों में 16 घंटे सप्लाई का शेड्यूल बनाया जाता है।

मगर इस बार दिक्कत यह रही कि गांवों में रात के समय ज्यादा कट लगते रहे हैं, उसी से ज्यादा परेशानी आ रही थी। अब निगम ने दिन के समय चार घंटे बिजली सप्लाई का शेड्यूल बनाया है। जबकि रात के समय बिजली का कोई घोषित कट तय नहीं किया है। दिन में दोपहर 12 से शाम चार बजे तक बिजली सप्लाई होगी। इसके बाद शाम को छह बजे से लेकर पूरी रात और फिर सुबह छह बजे तक सप्लाई चालूू रहेगी।

अब तक यह व्यवस्था थी कि रात में जितने समय तक बिजली कट लगता था तो उतने समय की बिजली सुबह में दी जाती थी। विभागीय अधिकारियों का तर्क था कि जो बिजली खरीदनी पड़ रही है वह रात में ज्यादा महंगी मिलती है। ऐसे में रात की बजाय दिन के समय ज्यादा बिजली खरीदी जा रही थी। बिजली निगम के एसडीओ अजय कुमार ने बताया कि अब आपूर्ति में सुधार है, इसलिए गांवों में बिजली सप्लाई का सामान्य शेड्यूल बनाया गया है।