Ration Card को मिलने जा रहा है फायदा, सरकार ने कर दिया है ऐलान
 
BENEFITS","Best saving scheme","income","profit","Ration Card

नई दिल्ली: राशन कार्ड धारकों (Ration Card Holders) को सरकार की तरफ से लगातार सुव‍िधाएं मिलने जा रही है। अब सरकार ऐसी सुव‍िधा पर काम करने जा रही है।

ज‍िसके बाद आप राशन कार्ड के ब‍िना भी गेहूं-चावल आद‍ि राशन का फायदा ले सकते हैं। यह सुव‍िधा पहले उत्‍तर प्रदेश में शुरू क‍िए जाने की उम्‍मीद लगाई जा रही है। उसके बाद अन्‍य राज्‍यों में लागू होने जा रही है।

ब‍िना कार्ड के ही म‍िलना शुरु हो जाएगा राशन

सरकार की तरफ से देखा जाए तो प‍िछले द‍िनों संसद में जानकारी मिल गई है क‍ि सरकारी सस्‍ते गल्‍ले की दुकान से राशन लेने के ल‍िए आपके पास राशन कार्ड (Ration Card) होना जरूरी नहीं होने जा रहा है।

इस बारे में व‍िस्‍तार से जानकारी देने के साथ खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री पीयूष गोयल (Piyush Goyal) ने संसद में बताया गया था क‍ि अब राशन कार्ड होल्डर को राशन लेने के लिए कार्ड दिखाने की जरूरत नहीं होने जा रही है।

बताना होगा राशन कार्ड और आधार का नंबर

दरअसल, सरकार ने देश में ‘वन नेशन, वन राशन कार्ड’ की सुविधा को शुरू करने के बाद फायदा देने जा रहे हैं। सरकार की तरफ से जारी आंकड़ों के मुताब‍िक देखा जाए तो देश में ‘वन नेशन, वन राशन कार्ड’ से 77 करोड़ लोगों को जोड़ा जा चुका है।

इसके बाद अब लोग जहां भी रहते हैं करीब की राशन दुकान पर जाकर राशन कार्ड नंबर और आधार नंबर बताकर राशन लिया जा सकता है। इसके बाद उन्हें राशन मिलना शुरु हो जाएगा।

35 राज्‍यों के लोग किए जाएंगे शामिल

पीयूष गोयल ने जानकारी मिली है क‍ि नई तकनीक ने राशन देने की प्रक्रिया को काफी ज्यादा आसान बनाया है। उन्‍होंने यह भी बताया था क‍ि 77 करोड़ लोगों में से राशन कार्ड यूज करने वालों की कुल संख्‍या का 96.8 प्रतिशत पहुंच गई है। इसमें केंद्र शास‍ित प्रदेश समेत 35 राज्‍यों के लोग शाम‍िल किया गया है।

केंद्रीय मंत्री ने जानकारी दिया है क‍ि यदप‍ि किसी शख्‍स का राशन कार्ड उसके गृह राज्य का हो चुका है और वह परिवार के साथ नौकरी या अन्‍य काम के कारण किसी दूसरे शहर या राज्‍य में रहना होता है तो वह राशन कार्ड नंबर का नंबर और आधार कार्ड की जानकारी देकर राशन हासिल हो सकती है। इसके लिए राशन कार्ड की मूल प्रत‍ि द‍िखाने की जरूरत नहीं होने जा रही है।