Public Holiday: योगी सरकार ने घोषित की इस तारीख को सार्वजनिक छुट्टी, ये रही बड़ी वजह
Public Holiday In Uttar Pradesh: यूपी (UP) में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) की अगुवाई वाली राज्य सरकार ने पांच दिसंबर को राज्य के कुछ शहरों में सार्वजनिक अवकाश का ऐलान किया है. क्या है वजह आइए जानते हैं.
 
 
योगी

Public Holiday 5 December UP: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की सरकार ने अगले महीने की पांच तारीख यानी 5 दिसंबर को कुछ शहरों में सार्वजनिक अवकाश (Public Holiday) घोषित किया है. दरअसस राज्य सरकार ने बीते मंगलवार को बाकायदा एक सरकारी अधिसूचना जारी करते हुए लोकसभा और विधानसभा उपचुनावों (Election Bypoll) के मद्देनजर चुनावी क्षेत्रों में 5 दिसंबर को सार्वजनिक अवकाश (UP Public Holiday) घोषित किया है. 

कहां होगी सार्वजनिक छुट्टी?

गौरतलब है कि यूपी की रामपुर और खतौली विधानसभा में उपचुनाव होना है. जबकि लोकसभा उपचुनाव की बात करें तो उत्तर प्रदेश के मैनपुरी संसदीय क्षेत्र में मतदान को इस सार्वजनिक अवकाश की वजह बताया गया है. एक सरकारी विज्ञप्ति के मुताबिक निगोशिएबल इंस्ट्रूमेंट एक्ट, 888 (88 का अधिनियम संख्या 26) की धारा-25 द्वारा प्राप्त अधिकारों का प्रयोग करते हुए, उत्तर प्रदेश के राज्यपाल ने लोकसभा उपचुनाव 2022 और विधानसभा उपचुनाव 2022 के लिए उल्लिखित जिलों में सार्वजनिक अवकाश घोषित किया है. इसलिए जिन जिलों में चुनाव होना है, वहां पर छुट्टी घोषित की गई है. 


चुनाव आयोग की तैयारी पूरी

चुनाव आयोग (EC) द्वारा पहले से तय कार्यक्रम के तहत पांच दिसंबर को उत्तर प्रदेश (UP), बिहार, राजस्थान, और छत्तीसगढ़ की कुल 5 सीटों पर  उपचुनाव (Bypoll) होना है. बताते चलें कि यूपी विधानसभा में प्रमुख विपक्षी दल समाजवादी पार्टी (SP) ने मैनपुरी लोकसभा क्षेत्र से पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव के निधन से खाली हुई सीट पर पूर्व सांसद और पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव को चुनावी समर में उतारा है. मैनपुरी को समाजवादी पार्टी का गढ़ माना जाता है. सपा की पारंपरिक सीट होने की वजह से शिवपाल सिंह यादव भी इस सीट पर हो रहे उपचुनाव में समाजवादी पार्टी की प्रत्याशी का समर्थन कर रहे हैं.

इस बीच निर्वाचन आयोग (EC) द्वारा विधानसभा उपचुनाव में 80 वर्ष से अधिक आयु वर्ग एवं दिव्यांग मतदाताओं को डाक मतपत्र से मत डालने की सुविधा उपलब्ध कराई गई है. इसके लिए पोलिंग पार्टी घर-घर जाकर मतदान कराएंगी.