Nand Kishore Suicide: केंद्रीय मंत्री कौशल किशोर के भतीजे ने की खुदकुशी, घर में लटका मिला शव
Lucknow News: स्थानीय पुलिस के मुताबिक, केंद्रीय मंत्री कौशल किशोर के भतीजे नंद किशोर के आत्महत्या की सूचना मिली थी. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है. सुसाइड के कारणों का पता नहीं चला है. अब जांच के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी.
 
 
Kaushal Kishore nephew Suicide Case: केंद्रीय मंत्री कौशल किशोर के भतीजे नंद किशोर ने बुधवार को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. जानकारी के मुताबिक, लखनऊ के दुबग्गा के बिगरिया इलाके में प्रापर्टी डीलर के रूप में कार्यरत नंद किशोर ने अपने घर में फांसी लगा ली. शुरुआती जांच से पता चला है कि उन्होंने आत्महत्या की है और पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है. इस बीच नंद किशोर के बेटे विशाल ने बताया, 'पिता जी काफी समय से बीमार थे. वह कुछ दिनों से परेशान भी चल रहे थे.'  पुलिस का बयान  स्थानीय पुलिस के मुताबिक केंद्रीय मंत्री के भतीजे नंद किशोर के आत्महत्या की सूचना मिली थी. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है. सुसाइड के कारणों का पता नहीं चला है. परिजन भी सुसाइड का कारण नहीं बता सके हैं. अब जांच के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी.  कौशल किशोर फिलहाल संसद में मोहनलालगंज लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं. वह वर्तमान में आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय के राज्य मंत्री हैं.  श्रद्धा मर्डर केस में दिया था बयान  आपको बता दें कौशल किशोर हाल ही में तब चर्चा में आए थे, जब उन्होंने श्रद्धा हत्याकांड के बारे में बात करते हुए कहा था कि शिक्षित लड़कियों को लिव-इन रिलेशनशिप में नहीं आना चाहिए.  बिहार के गया में केंद्रीय मंत्री कौशल ने कहा, 'यह गलत है, इसलिए किसी को भी लिव-इन रिलेशनशिप में नहीं जाना चाहिए. जो लड़कियां लिव-इन रिलेशनशिप में जा रही हैं, उन्हें कोर्ट से पेपर बनवा लेना चाहिए. ऐसी रिलेशनशिप एक दोस्ती होती है, जो थोड़े दिन चलती है, फिर टूट जाती है और इस तरह की घटनाएं होती हैं.'  उन्होंने ये भी कहा, 'ज्यादातर पढ़ी लिखी लड़कियां ही लिव-इन रिलेशनशिप में जा रही हैं. ऐसे में पढ़ी लिखी लड़कियों को इन घटनाओं और गैर पढ़ी लिखी लड़कियों से सीख लेनी चाहिए.'

Kaushal Kishore nephew Suicide Case: केंद्रीय मंत्री कौशल किशोर के भतीजे नंद किशोर ने बुधवार को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. जानकारी के मुताबिक, लखनऊ के दुबग्गा के बिगरिया इलाके में प्रापर्टी डीलर के रूप में कार्यरत नंद किशोर ने अपने घर में फांसी लगा ली. शुरुआती जांच से पता चला है कि उन्होंने आत्महत्या की है और पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है. इस बीच नंद किशोर के बेटे विशाल ने बताया, 'पिता जी काफी समय से बीमार थे. वह कुछ दिनों से परेशान भी चल रहे थे.'

पुलिस का बयान

स्थानीय पुलिस के मुताबिक केंद्रीय मंत्री के भतीजे नंद किशोर के आत्महत्या की सूचना मिली थी. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है. सुसाइड के कारणों का पता नहीं चला है. परिजन भी सुसाइड का कारण नहीं बता सके हैं. अब जांच के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी.

कौशल किशोर फिलहाल संसद में मोहनलालगंज लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं. वह वर्तमान में आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय के राज्य मंत्री हैं.

श्रद्धा मर्डर केस में दिया था बयान

आपको बता दें कौशल किशोर हाल ही में तब चर्चा में आए थे, जब उन्होंने श्रद्धा हत्याकांड के बारे में बात करते हुए कहा था कि शिक्षित लड़कियों को लिव-इन रिलेशनशिप में नहीं आना चाहिए.

बिहार के गया में केंद्रीय मंत्री कौशल ने कहा, 'यह गलत है, इसलिए किसी को भी लिव-इन रिलेशनशिप में नहीं जाना चाहिए. जो लड़कियां लिव-इन रिलेशनशिप में जा रही हैं, उन्हें कोर्ट से पेपर बनवा लेना चाहिए. ऐसी रिलेशनशिप एक दोस्ती होती है, जो थोड़े दिन चलती है, फिर टूट जाती है और इस तरह की घटनाएं होती हैं.'

उन्होंने ये भी कहा, 'ज्यादातर पढ़ी लिखी लड़कियां ही लिव-इन रिलेशनशिप में जा रही हैं. ऐसे में पढ़ी लिखी लड़कियों को इन घटनाओं और गैर पढ़ी लिखी लड़कियों से सीख लेनी चाहिए.'