Electricity Bills Rule: हरियाणा में बिजली बिलों को लेकर नया फॉर्मूला, अब कागज पर नहीं आएगा बिल, जानिये क्या है नई योजना ?

DHBVN द्वारा उपभोगताओं की सुविधा के साथ-साथ कार्यप्रणाली में भी पारदर्शिता लाने के लिए यह योजना लाई जा रही है. इसके अंतर्गत सभी फीडर, सब डिवीज़न स्तर पर उपभोकताओं से व्हाट्सएप नंबर लेने के बाद उन सब के व्हाट्सएप ग्रुप भी बनाए जा रहे हैं. DHBVN के अधिकारियों के अनुसार इस समय जिले में लगभग 1.50 लाख उपभोक्ताओं के घर स्मार्ट मीटर लगे हुए हैं.

 
Electricity Bills Rule: हरियाणा में बिजली बिलों को लेकर नया फॉर्मूला, अब कागज पर नहीं आएगा बिल, जानिये क्या है नई योजना ?

Electricity Bills New Rule: हरियाणा में बिजली विभाग की तऱफ से अब नये फॉर्मूले पर काम किया जा रहा है। बिजली विभाग की तरफ से बिजली बिलों को कागज की बजाय डिजीटल तरीके से भेजने की तैयारी की जा रही है जिसके लिए दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम तैयारी कर रहा है।

यदि सबकुछ ठीक रहा तो आने वाले महीने से दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम ( DHBVN) का कागज पर प्रिंट बिजली बिल मिलना बंद हो जाएगा. कर्मचारी उपभोकताओं के घर पर बिजली का बिल देने नहीं जाएंगे. उपभोगताओं को अब उनके रजिस्टरड मोबाइल पर एसएमएस, व्हाट्सएप या EMAIL आईडी से महीने में होने वाली खपत के बिजली बिल भेज दिए जायेंगे.

DHBVN द्वारा उपभोगताओं की सुविधा के साथ-साथ कार्यप्रणाली में भी पारदर्शिता लाने के लिए यह योजना लाई जा रही है. इसके अंतर्गत सभी फीडर, सब डिवीज़न स्तर पर उपभोकताओं से व्हाट्सएप नंबर लेने के बाद उन सब के व्हाट्सएप ग्रुप भी बनाए जा रहे हैं. DHBVN के अधिकारियों के अनुसार इस समय जिले में लगभग 1.50 लाख उपभोक्ताओं के घर स्मार्ट मीटर लगे हुए हैं.

उनके मोबाइल फोन पर SMS के साथ बिजली बिल का पेपर( कागज पर अंकित बिजली बिल ) भी भेजा जा रहा है. स्मार्ट मीटर वाले उपभोक्ताओं को मीटर रीडिंग के साथ ही रीडिंग करने वाली हैंड हेल्ड मशीन से बिजली बिल निकाल कर दिए जा रहे हैं. इस योजना के अंतर्गत उपभोक्ताओं की शिकायत रहती है कि अच्छी तरह प्रिंटआउट ना निकलने पर बिजली बिल पर एक दो अक्षर अच्छे से अंकित न होने पर उन्हें परेशानी झेलनी पड़ती है.

ऑनलाइन कार्यप्रणाली को बढ़ावा देने के लिए बनाई गई यह योजना
DHBVN के अधीक्षण अभियंता पीके चौहान का कहना है कि बीलिंग प्रणाली में पारदर्शिता लाई जा रही है. अगले महीने से बिजली बिल को पेपर लेस करने की योजना है. उपभोक्ताओं को मैसेज के साथ व्हाट्सएप,ईमेल, आईडी पर भी बिजली बिल भेज दिए जाएंगे. अब पेपर पर अंकित बिजली बिल नहीं भेजे जाएंगे.