किन कॉलेजों के छात्रों को Job देना पसंद करती हैं टॉप कंपनियां? आई लिस्ट

THE Employability Rankings में बताया गया है कि टॉप कंपनियां किन कॉलेजों के स्टूडेंट्स को जॉब देना पसंद करती हैं? इसमें भारत और वर्ल्ड के Top Colleges की लिस्ट दी गई है.
 

वो कौन से कॉलेज हैं जहां से पढ़ाई करने के बाद टॉप कंपनियों में जॉब पाना आसान हो जाता है? इस सवाल का जवाब आपको लेटेस्ट THE Rankings 2022 से मिल जाएगा. टाइम्स हायर एजुकेशन ने देश और दुनिया के उन कॉलेजों की लिस्ट जारी की है जो Jobs के मामले में टॉप पर हैं. जहां के स्टूडेंट्स को बड़ी से बड़ी कंपनियां हर तरीके से नौकरी के काबिल मानती हैं. इसका नाम है- Global Employability Ranking. इस मामले में दुनिया के टॉप 100 में भारत के तीन संस्थानों ने जगह बनाई है. पहले नंबर पर है IIT Delhi.

हालांकि आईआईटी दिल्ली 2021 की तुलना में एक पायदान नीचे खिसक गया है. फिर भी भारत में ये नंबर 1 पर बरकरार है. 2021 में जहां IIT Delhi Employability Ranking में दुनिया में 27वें स्थान पर था, 2022 में इसकी रैंक 28वीं हो गई है. वहीं दूसरे भारतीय संस्थानों ने वर्ल्ड लेवल पर तरक्की की है.

इस लिस्ट में दुनिया की टॉप 250 यूनिवर्सिटीज हैं. इनमें भारत के 7 संस्थानों के नाम हैं. ग्लोबल और नेशनल लेवल की अलग-अलग लिस्ट यहां दी गई है.

Job के मामले में दुनिया की टॉप 10 यूनिवर्सिटी

रैंक 2022 रैंक 2021 यूनिवर्सिटी का नाम देश
1 1 मैसेच्युसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (MIT) अमेरिका
2 2 कैलिफोर्निया इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी अमेरिका
3 3 हार्वर्ड यूनिवर्सिटी अमेरिका
4 4 कैंब्रिज यूनिवर्सिटी यूके
5 5 स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी अमेरिका
6 8 ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी यूके
7 6 दि यूनिवर्सिटी ऑफ टोक्यो जापान
8 9 नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ सिंगापुर सिंगापुर
9 10 प्रिंसटन यूनिवर्सिटी अमेरिका
10 7 येल यूनिवर्सिटी अमेरिका

जॉब के लिए भारत की टॉप 10 यूनिवर्सिटी

रैंक 2022 रैंक 2021 यूनिवर्सिटी का नाम
28 27 आईआईटी दिल्ली
58 61 आईआईएससी बैंगलोर
72 97 आईआईटी बॉम्बे
154 162 आईआईएम अहमदाबाद
155 170 आईआईटी खड़गपुर
225 225 एमिटी यूनिवर्सिटी
242 248 बैंगलोर यूनिवर्सिटी

इस लिस्ट में दुनिया के 44 देशों की यूनिवर्सिटीज ने जगह बनाई है. 7 संस्थानों के साथ भारत 13वें स्थान पर है. ग्रेजुएशन के बाद जॉब के लायक बनाने वाली यूनिवर्सिटीज की संख्या के मामले में भारत स्वीडन, हॉन्गकॉन्ग, इटली, सिंगापुर जैसे देशों से आगे है.