1583X262px
स्वास्थ्य

सिरसा में अब ऑक्सीजन सिलेंडरों की नहीं पड़ेगी जरूरत, प्रशासन इन अस्पतालों में पहुंचाएगा पाइप से ऑक्सीजन

My Sirsa News

सिरसा (sirsa news) में कोरोना (corona) की दूसरी लहर से केवल 2 प्रतिशत लोग ही चपेट में आए हैं। लेकिन इतने में ही जिले की स्वास्थ्य सुविधाओं की पोल खुल गई है। वहीं कोरोना की दूसरी लहर ने जिला प्रशासन के पूरे इंतजाम फेल करके रख दिया है। जिससे स्वास्थ्य विभाग अब इंतजाम में जुट गया है।

वहीं  आपको बता दें कि सिरसा व डबवाली में ऑक्सीजन प्लांट (oxygen plant) अभी निर्माणाधीन है। आपको बता दें कि इस पर 156.28 लाख रूपये खर्चा आएगा। वहीं स्वास्थ्य विभाग द्वारा इन 8 सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों ऐलनाबाद, रानियां, चौटाला, ओढ़ां, कालांवाली, चौपटा, माधोसिंघाना व बड़ागुढ़ा को सेंट्रल ऑक्सीजन पाइप लाइन से जोड़ा जाएगा। जिसको लेकर मुख्यालय ने 185.17 लाख रूपयों की राशि स्वीकृत की है।

वहीं आपको बता दें कि यह बजट इलेक्टिकल डिविजन हिसार को ट्रांसफर किया गया है। विभाग जल्द ही इसके टेंडर जारी करने की तैयारी में है। वहीं विभाग के अनुसार अगले तीन माह में यह कार्य सिरे चढ़ाए जाने की उम्मीद है।

जिस कारण जिले के मरीजों को बेहतर इलाज मिलेगा। वहीं सिरसा में ऑक्सीजन सिलेंडर की किल्लतों का सामना करना पड़ रहा है। लेकिन प्लांट शुरू होने के बाद पाइप के द्वारा ऑक्सीजन अस्पताल में पहुंचाई जाएगी।

आपको जानकारी के लिए बता दें कि बीते दो माह से जिले में कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं, वहीं मौत का भी आंकड़ा बढ़ने लगा था। वहीं गांव में भी संक्रमण के मामले बढ़ते ही जा रहे थे। वहीं गंभीर मरीजों को अस्पतालों में इलाज के लिए बेड नहीं मिल रहा था। जिस कारण मरीज अस्पताल के बाहर ही दम तोड़ रहे थे। सिविल अस्पताल में तो इतना बुरा हाल था कि एक बेड पर दो दो मरीजों को रखा जाता था।

सिरसा में स्वास्थ्य व्यवस्थाओं की बात करें तो सीएचसी और पीएचसी में मरीजों के इलाज का कोई खास इंतजाम नहीं था। वहीं अगर सिविल अस्पताल की बीते दिनों की एक तस्वीर देखें तो मरीज सोने और इलाज करवाने के दौरान लेटने के लिए पूरा इंतजाम खुद करते थे।

ताजा खबरें

To Top