अपराध बड़ी खबरें सिरसा खबर सिरसा में खास हरियाणा

सिरसा में कोचिंग सेंटर संचालक हत्याकांड में सुनवाई हुई पूरी, इस दिन सुनाया जाएगा फैसला

My Sirsa News

काठमंडी में अगस्त 2017 में हुए कोचिग सेंटर संचालक संदीप जाखड़ की हत्या मामले की सत्र न्यायालय में सुनवाई पूरी हो गई। अदालत 26 अप्रैल को फैसला सुनाएगी। सोमवार को मामले में तीनों आरोपित न्यायालय में पेश हुए।

पिज्जा शॉप से छुट्टी होने के बाद निकले तीन दोस्त, रास्त में मिले तीनों के शव, जानिए पूरा मामला

बता दें कि गांव बकरियांवाली निवासी संदीप जाखड़ काठमंडी में कोचिग सेंटर चलाता था। 7 अगस्त 2017 में दोपहर को कार में सवार होकर तीन युवक सेंटर पर आए। यहां तीनों ने उसके साथ पहले बहसबाजी की और उसके बाद उसके माथे व छाती में गोली मार दी। जिससे वह फर्श पर गिर गया। गोली मारकर तीनों मौके से फरार हो गए।

सेंटर संचालक को पड़ोसी दुकानदार सामान्य अस्पताल लेकर आए, जहां उसे मृत घोषित कर दिया। हत्या का आरोप पुलिसकर्मी सुभाष, उसके साथी राजपाल व संजय कुमार पर लगा। पुलिस ने बयानों के आधार पर आरोपितों के खिलाफ केस दर्ज करके तीनों को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस की जांच में सामने आया कि संदीप सुबह 10 बजे जमाल पुलिस चौकी में पुलिस कर्मी सुभाष के खिलाफ जान से मारने की धमकी देने की शिकायत देकर आया था। संदीप ने शिकायत में एक मोबाइल नंबर देते हुए बताया था कि इस नंबर से उसको जान से मारने की धमकी मिल रही है। जब जमाल चौकी की पुलिस ने उस नंबर पर फोन किया तो पुलिसकर्मी सुभाष ने फोन उठाया। आरोपित ने तब कहा कि संदीप उसकी पत्नी के साथ फोन पर बातें करता है।

वारदात करने में आरोपितों ने पांच मिनट ही लगाए। सीसीटीवी फुटेज में 11 बजकर 59 मिनट पर वे सेंटर में आते दिखाई दिए। 12 बजकर चार मिनट पर वे वापस दौड़ते हुए दिखे। एक के हाथ में पिस्तौल भी दिखाई दी। इस मामले में पुलिस ने आईआरबी बटालियन भौंडसी में तैनात हवलदार सुभाष व दो अन्य को वारदात में शामिल मानते हुए गिरफ्तार कर लिया था।

Related posts

घर बैठे मिलेगी कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट

admin

टोहाना में वकील की पत्नी हत्याकांड में हुआ अहम खुलासा, पटवारी ने बताई कत्ल की वजह

admin

खुशखबरी: हरियाणा के लोगों को मिलेंगे रिहायशी प्रमाण पत्र, ये रहेगी शर्तें

admin
Share this
Join Our Group