1583X262px
बड़ी खबरें

सिरसा में आठ सालों से नहीं बिक रहा था प्लाट, अब बना दिया मंदिर

My Sirsa News

नवरात्र के दूसरे दिन बुधवार को शहर के मंदिरों में माता के दर्शनों के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ रही। लोगों ने ने मास्क पहन व लाइन में लगकर सोशल डिस्टेसिंग के साथ माथा टेका। प्रशासन द्वारा तय अनुसार ही रात्रि को मंदिरों को बंद कर दिया गया, ताकि श्रद्धालु कर्फ्यू समय से पहले घरों तक पहुंच सके।

नवरात्र पर मंदिरों में 21 अप्रैल तक कार्यक्रम होंगे। बुधवार को श्रद्धालुओं ने मां ब्रह्मचारिणी की पूजा अर्चना की। कोरोना संक्रमण के फैलाव के चलते भक्तों ने घरों में बैठकर ज्योत जलाई। वहीं मंदिरों में श्रद्धालुओं को महिलाओं की संख्या ज्यादा रही। जिन श्रद्धालुओं ने मास्क नहीं पहन रखे थे, उन्हें मंदिर पदाधिकारियों ने मास्क दिए। इसके अलावा शहर के अन्य मंदिरों में भी श्रद्धालुओं ने ज्योत जलाई।

शांतिनगर स्थित कॉलोनी में एक प्लाट ऐसा है जिसे कोई भी खरीदने के लिए हर कोई मना कर देता है। करीब 8 वर्षों से प्लाट खाली पड़ा रहा। शांति नगर वेल्फेयर सोसायटी के पदाधिकारियों ने यहां पर मां वैष्णो देवी का मंदिर स्थापित कर दिया।

मंदिर के पुजारी गोबिंद शर्मा ने बताया कि कॉलोनी में बहुत से ऐसे प्लाट हैं जिनकी प्रोपर्टी डीलर खरीद-फरोख्त करते हैं। लेकिन एक प्लाट ऐसा है जिसे कोई हर कोई खरीदने से मना कर देता है। सोसायटी के पदाधिकारियों ने यहां पर मंदिर बना दिया। यहां भक्त सच्चे मन से मन्नत मांगता है मां उसकी मन्नत जरूर पूरी करती है।

ताजा खबरें

To Top