1583X262px
हरियाणा

हरियाणा में गरीबों को 5 और 10 किलो के थैलों में मिलेगा अनाज, जानिये क्या है अन्नपूर्णा उत्सव में खास ?

हरियाणा में 18 और 19 अगस्त को सभी राशन डिपुओं पर अन्नपूर्णा उत्सव का आयोजन किया जाएगा। उत्सव के दौरान प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत पात्र परिवारों को 5 किलोग्राम गेहूं प्रति व्यक्ति दिया जाएगा।

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने आज वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से उपायुक्तों को अन्नपूर्णा उत्सव की तैयारी के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उन्होंने कोविड प्रोटोकॉल के तहत जारी आवश्यक निर्देशों का पालन करने के निर्देश भी दिए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड महामारी को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पीएमजीकेवाई के तहत गत वर्ष गरीब परिवारों को राशन देने की शुरूआत की थी ताकि कोई भूखा न रहे। प्रधानमंत्री की सोच है कि किसी के समक्ष भी खाने के लिए अन्न का संकट ना आए। योजना के तहत नवम्बर माह तक सभी पात्र परिवारों को राशन दिया जाएगा।

उन्होंने कहा कि कोविड के कारण बहुत से परिवारों को संकट का सामना करना पड़ा और निराशा व अवसाद की स्थिति भी बनी। इस बात को ध्यान में रखते हुए इस बार राशन वितरण की व्यवस्था को उत्सव सरीखे माहौल में किए जाने का निर्णय लिया गया है।

5 और 10 किलो के थैलों में दिया जाएगा राशन
अन्नपूर्णा उत्सव के दौरान राशन का वितरण 5 व 10 किलोग्राम के थैलों में किया जाएगा। प्रदेशभर में लगभग 10 हजार राशन डिपो हैं। इस दौरान लगभग 68 लाख थैलों में पात्र परिवारों को राशन दिया जाएगा। इनमें लगभग 55 लाख 10 किलोग्राम व लगभग 13 लाख 5 किलोग्राम के थैले शामिल हैं। सभी डिपुओं पर अन्नपूर्णा उत्सव दो दिन चलेगा।

हर डिपो पर होगा नोडल अधिकारी
मुख्यमंत्री ने उपायुक्तों को हर राशन डिपो पर नोडल अधिकारी नियुक्त करने के निर्देश दिए ताकि राशन वितरण की सही ढंग से मोनिटरिंग हो सके। उन्होंने कहा कि नोडल अधिकारी उत्सव के दौरान दोनों दिन पूरे समय डिपो पर मौजूद रहेंगे। इसके साथ ही जनप्रतिनिधियों एवं सामाजिक कार्यकर्ताओं का भी आवश्यकता अनुसार सहयोग लेने के लिए कहा।

प्रवासी राशन कार्ड धारक भी ले सकेंगे राशन
मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा में वन नेशन वन कार्ड योजना को लागू है। वन नेशन वन कार्ड योजना के तहत प्रदेश में रह रहे पात्र प्रवासी राशन कार्ड धारक भी इस उत्सव के दौरान राशन ले सकेंगे।

बायोमेट्रिक वेरिफिकेशन के बाद ऐसे प्रवासी (अन्य प्रदेशों के ) राशन कार्ड धारकों को राशन दिया जाएगा। मुख्यमंत्री ने उनके जिलों में रह रहे अन्य प्रदेशों के राशन कार्ड धारकों की संख्या को ध्यान में रखते हुए उपायुक्तों को आवश्यकता अनुसार अतिरिक्त व्यवस्था करने के निर्देश दिए।

इस मौके पर हरियाणा के मुख्य सचिव विजय वर्धन, मुख्यमंत्री के मुख्य प्रधान सचिव डी एस ढेसी, खाद्य आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव अनुराग रस्तोगी, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव वी. उमाशंकर, अतिरिक्त प्रधान सचिव डॉ. अमित अग्रवाल, उपप्रधान सचिव श्रीमती आशिमा बराड़ सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहे।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top