अपराध बड़ी खबरें सरकारी योजनाएं सिरसा खबर स्वास्थ्य

हरियाणा के इस शहर में खुलेगा कैंसर का अस्पताल, विदेशों से आएगी मशीनें

My Sirsa, अंबाला।

छावनी के नागरिक अस्पताल में बनकर तैयार कैंसर टर्सरी सेंटर में अब मशीनें पहुंचने लगी हैं। टर्सरी सेंटर में लगने वाली तीन विदेशी मशीनें लॉकडाउन में भारत नहीं पहुंच सकी। अमेरिका सहित यूरोपियन देशों से लगभग 27 करोड़ की लागत से तीन आधुनिक मशीनें अंबाला के कैंसर टर्सरी सेंटर में लगाई जानी हैं। इसमें सीटी स्टियूमीलेटर अमेरिका से अंबाला पहुंच चुकी है। इस मशीन से कैंसर रोगियों की बीमारी की सटीक जानकारी मिलेगी। इससे रेडिया थिरेपी प्लानिंग करने में चिकित्सकों को आसानी होगी।

मरीज के बीमारी का डायगनोसिस करने में चिकित्सक को सहायता होगी। छावनी अस्पताल में कैंसर रोगियों का इलाज करने वाले चिकित्सक की ओपीडी में कुल 370 मरीज रजिस्टर्ड हैं, जिनका इलाज अंबाला में हो रहा है और टेस्ट के लिए पीजीआइ जाना पड़ता है। यहां छह जिले के मरीज अपना इलाज करा रहे हैं।

नागरिक अस्पताल छावनी में पीपीपी मोड पर शुरू होने वाले कैंसर टर्सरी सेंटर में हाई एनर्जी लीनियर एक्सलीरेटर, ब्रेकी थेरेपी और सीटी स्टियूमीलेटर अमेरिका सहित यूरोपियन देशों से अंबाला में आनी थी। इसमें सीटी स्टियूमीलेटर अमेरिका से अंबाला पहुंच चुकी है। सीटी सीमोलेटर मशीन से एक मरीज की जांच करने में करीब 45 मिनट का समय लगेगा। इस तरह कुल मिलाकर आठ घंटे के शिफ्ट में करीब 8 मरीजों की जांच हो सकेगी।

अंबाला छावनी नागरिक अस्पताल में तैयार किए जा रहे कैंसर टर्सरी सेंटर के निर्माण पर 65 करोड़ खर्च हो चुके हैं। प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने इस सेंटर के निर्माण कार्य का शिलान्यास किया था, जिसका निर्माण डेढ़ साल में किया जाना चाहिए था। अब यह बनकर पूर्णरूप से तैयार हो चुका है।

Related posts

राम जन्मभूमि को लेकर सिरसा में भी चला था शिला पूजन अभियान

admin

हरियाणा में आज 338नए केस watch bulletin evening

admin

How to check vehicle registration online

admin
Share this
Join Our Group