1583X262px
बड़ी खबरें

हरियाणा के रेवाड़ी में मिला इतिहास का खजाना, पुराने तीर के बाद अब मिल रहे पुराने सिक्के

 

भारत का इतिहास बहुत अनोखा है। सदियां बीत गई लेकिन आज भी इतिहास के चिन्ह नजर आते हैं। आज भी भारत और श्रीलंका को जोड़ने वाला रामसेतू और महाभारत के युद्ध के अंश देखने को मिलते है। ऐसे इतिहास का खजाना हरियाणा के रेवाड़ी जिले में मिला है।

रेवाड़ी जिले के गांव कवाली में एक पुरानी हवेली है। ये हवेली सतन मिस्त्री की है जब वह अपनी हवेली में खुदाई कर रहे थे तो उन्हें 3 तीर मिले थे। तीर देखने में सैकड़ों वर्ष पुराने लग रहे थे लेकिन हैरानी की बात थी कि जर्जर हालत में नहीं थे।

तीर मिलने के बाद हवेली को देखने के लिए ग्रामीणों की भीड़ लगने लगी है। तीर मिलने के बाद लोगों में पैदा हुआ कौतूहल खत्म भी नहीं हुआ था कि हवेली में से अब प्राचीन सिक्के निकलने लगे हैं। सतन मिस्त्री ने इसकी सूचना जिला प्रशासन को दी

सूचना मिलने के बाद उपायुक्त यशेन्द्र सिंह ने तहसीलदार व गिरदावर को गांव कवाली में भेजा गया। तहसीलदार व गिरदावर ने तीर व पुराने सिक्कों को अपने कब्जे में ले लिया है। ऐसा माना जा रहा है कि इस पुरानी हवेली में से कुछ और प्राचीन चीजें भी मिल सकती हैं।

अब पुरातत्व विभाग की टीम हवेली की जांच करेंगी। लोगों का कहना है कि हवेली में मिले तीर महाभारत कालीन हो सकते हैं। लेकिन अभी तक जिला प्रशासन और पुरातत्व विभाग इसकी कोई पुष्टि नहीं की गई है।

सतन मिस्त्री की इमानदारी पर हर कोई उनकी तारीफ कर रहा है। ग्रामीणों ने जिला प्रशासन से भी आग्रह किया है कि सतन मिस्त्री ने ईमानदारी से अपने मकान में मिली प्राचीन चीजों की जानकारी दी है, इसलिए उनको आर्थिक मदद मुहैया कराई जाए।

 

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ताजा खबरें

To Top