इन सरकारी योजना में 312 रुपये जमा करवाने पर मिलता है 4 लाख
 
1091650-money-6

मोदी सरकार की सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने वाली प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना (Pradhan Mantri Jeevan Jyoti Bima Yojana), प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना और अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana) के आज सात साल पूरे हो रहे हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने 9 मई 2015 को इन योजनाओं को लॉन्च किया था. ये योजनाएं जनता को किफायती दरों पर बीमा और सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने के साथ पेंशन देने में सफल रही हैं. पीएमजेजेबीवाई (PMJJBY) के तहत 12 करोड़ से अधिक नामांकन हो चुके हैं. वहीं पीएमएसबीवाई (PMSBY) के तहत कुल नामांकन 28.37 करोड़ है. PMJJBY और PMSBY के तहत 312 रुपये प्रीमियम में 4 लाख रुपये का कवर मिलता है.

7वीं वर्षगांठ पर वित्त मंत्री (Finance Minister) निर्मला सीतारमण ने कहा, पिछले 7 वर्षों में इन योजनाओं में पंजीकृत और इनसे लाभान्वित होने वाले लोगों की संख्या इनकी सफलता का प्रमाण है. माननीय प्रधानमंत्री द्वारा 15 अगस्त 2014 को घोषित वित्तीय समावेशन के राष्ट्रीय मिशन के प्रमुख उद्देश्यों में से एक किफायती उत्पादों के मध्यम से समाज के गरीब और वंचित वर्गों को आवश्यक वित्तीय सुरक्षा प्रदान करने के लिए बीमा और पेंशन के कवरेज का विस्तार करना था. कम लागत वाली ये बीमा योजनाएं और गारंटीड पेंशन स्कीम इस बात को सुनिश्चित कर रही हैं कि वित्तीय सुरक्षा, जो पहले कुछ चुनिंदा लोगों के लिए उपलब्ध थी, अब समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचे.

प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना

शुरुआत से लेकर अब तक प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना (PMJJBY) के तहत कुल 12.76 करोड़ पंजीकरण हुए हैं और इसके के तहत 5,76,121 दावों के लिए 11,522 करोड़ रुपये की धनराशि का भुगतान किया गया है. PMJJBY आयु वर्ग 18-50 वर्ष के नागरिकों को 330 रुपये प्रति वर्ष के प्रीमियम पर 2 लाख रुपये का एक साल का टर्म लाइफ कवर प्रदान करता है, जिसका प्रत्येक वर्ष नवीकरण किया जा सकता है.

जिन व्यक्तियों के पास बैंक खाता है, इस स्कीम का लाभ उठा सकते हैं. जीवन बीमा सामान्य बीमा कंपनियों के सहयोग से बैंकों और पोस्ट ऑफिस में उपलब्ध है. बीमा अवधि 1 जून से 31 मई तक है. ग्राहक को 31 मई तक रजिस्ट्रेशन करने और ऑटो डेबिट का विकल्प स्वीकार करना होता है.

प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना

9 मई 2015 को शुरू की गई प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना एक दुर्घटना बीमा योजना है, जो मृत्यु या पूर्ण/आंशिक स्थायी दिव्यांगता के लिए बीमा कवर प्रदान करती है. इसका सालाना प्रीमियम 12 रुपये है. 18 से 70 वर्ष की उम्र के सभी बैंक खाताधारक इस योजना का लाभ ले सकते हैं.

इसमें दुर्घटना के कारण मृत्यु और पूर्ण/आंशिक स्थायी दिव्यांगता को कवर किया जाता है. दुर्घटना में होने वाली मृत्यु और पूर्ण स्थायी दिव्यांगता पर 2 लाख रुपये मिलते हैं. आंशिक स्थायी दिव्यांगता पर 1 लाख रुपये मिलते हैं. बीमा की अवधि 1 जून से 31 मई है.

अटल पेंशन योजना (APY)

9 मई 2015 को शुरू की गई Atal Pension Yojana देश के असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को वृद्धावस्था के दौरान वित्तीय सुरक्षा प्रदान करने पर केंद्रित है. APY को एनपीएस की समग्र संरचना के तहत पेंशन निधि विनियामक एवं विकास प्राधिकरण (PFRDA) द्वारा प्रशासित किया जा रहा है.

APY ग्राहकों के योगदान के आधार पर 60 वर्ष की आयु से 1,000 रुपये से लेकर 5,000 रुपये प्रति माह तक की न्यूनतम पेंशन की गारंटी देता है. आज की तारीख में APY योजना के तहत 4 करोड़ से अधिक ग्राहक नामांकित हैं. कुल पेंशन एसेट्स 20,922 करोड़ रुपये की है जो साल-दर-साल 33.37 फीसदी बढ़ी है.

इसमें मासिक, त्रैमासिक या अर्ध-वार्षिक प्रीमियम का भुगतान किया जा सकता है. चुनी गई पेंशन की राशि और व्यक्ति की आयु के आधार पर योगदान राशि निर्धारित होगी. 18 से 40 वर्ष के आयु वर्ग के वैध बचत खाताधारक इस योजना के लिए अपना रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं.

खाताधारक की मृत्यु होने पर जीवनसाथी को समान पेंशन की गारंटी मिलती है. खाताधारक और उसके जीवनसाथी दोनों की मृत्यु की स्थिति में नामांकित व्यक्ति को पूरा पैसा मिलता है. ग्राहक की समय से पहले मृत्यु (60 वर्ष की आयु से पहले मृत्यु) के मामले में, ग्राहक के पति या पत्नी, शेष अवधि के लिए, ग्राहक के एपीवाई खाते में अंशदान जारी रख सकते हैं, जब तक कि मूल ग्राहक 60 वर्ष की आयु प्राप्त नहीं कर लेता हो.