Haryana News: हरियाणा में गन पॉइंट पर परिवार को बंधक बनाकर लूटपाट का मामला, 48 घंटे गुजरने के बाद भी नहीं हो पाई गिरफ्तार, जानिए क्या व कहां का है मामला

 
zxfafafaf

Haryana News: हरियाणा के करनाल में गन पॉइंट पर एक परिवार को बंधक बनाकर लूटपाट करने  का मामला सामना आया है।

 बदमाश शहर में एक सुनार के घर में घुसकर पहले तो परिवार को बंधक बनाया उसके बाद लूट की वारदात को अंजाम दिया।

 आरोपी अभी तक पुलिस की गिरफ्त से बाहर है। पुलिस 48 घंटे बीतने के बाद भी आरोपियों के तक नहीं पहुंच पाई है। SP ने इस मामले की जांच के लिए पुलिस की 4 टीमों का गठन किया है।

पुलिस का दावा है कि आरोपियों को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा, लेकिन पुलिस कितनी त्वरित कार्रवाई करती है यह तो लुटेरों के पकड़े जाने के बाद ही तय हो पाएगा।

 फिलहाल लूट की घटना के बाद से ही आसपास के लोग खौफजदा है। शहर के पॉश इलाके में बैठे लोगों को अपनी सुरक्षा का डर सता रहा है।


गन पॉइंट पर दी लूट की वारदात का अंजाम 

गुरुवार अल सुबह असंध की दरबारा कॉलोनी के रहने वाले दीपक ज्वेलर्स के घर पर लुटेरे दाखिल हुए थे। लुटेरों ने पहले ताला तोड़ा था।

 दीपक के सामने 2 पिस्तौल और तलवारे तनी हुई थी और बदमाश दीपक से यही कह रहे थे कि जल्दी उठो और पैसे निकालो।

 बदमाशों ने बच्चों को भी गन पॉइंट पर ले लिया था।

लुटेरों ने उनके घर की सभी अलमारी को खंगाल डाला और 5.80 लाख रुपए और घर में रखे लाखों के आभूषण समेट लिए थे।

 इसके बाद लुटेरे परिवार के लोगों को बांधकर और दीपक के सिर पर तलवार से वार करके फरार हो गए थे। इस दौरान करीब 50 मिनट तक बदमाश घर में रहे थे।


 पहले भी हो चुकी है सर्राफा व्यापारी के घर चोरी

करीब 13 दिन पहले भी करनाल के सेक्टर-5 में चोरों ने एक सर्राफ व्यापारी के घर चोरी की घटना को अंजाम दिया था।

 चोर दरवाजे का शीशा तोड़कर घर के अंदर दाखिल हुए थे और लगभग 40 लाख की चोरी कर फरार हो गए।

 सर्राफ व्यापारी राजीव अपने परिवार के साथ शादी में पंचकूला के मोरनी शादी में गए हुए थे। इस मामले में भी पुलिस अबतक आरोपियों तक नहीं पहुंच पाई है।

 कार व्यापारी के घर में घुस गए थे बदमाश

 बीती 13 फरवरी की सुबह कार कारोबारी विनोद जैन के घर में भी लुटेरो ने लूट की वारदात को अंजाम देने का प्रयास किया था। यहां पर भी करीब 50 मिनट तक बदमाश घर में रूके थे और विनोद जैन व उसकी पत्नी को प्रताड़ित भी किया था। 

बदमाश घर के साइड वाली निर्माणाधीन दुकान में प्रवेश करते हुए छत के रास्ते विनोद के बेडरूम में दाखिल थे।

बदमाशों ने जैसे ही गोली चलाने की धमकी दी तो विनोद और राजरानी ने पहली मंजिल से छलांग लगा दी।

 जिसके बाद बदमाश सीढ़ियों के रास्ते ही भागने लगे और रास्ते में उनकी हाथापाई विनोद की बड़ी बेटी तृप्ति के साथ भी हुई, जो शोर सुनकर उठ चुकी थी, लेकिन बदमाश उसे भी घायल करके फरार हो चुके थे। 

हालांकि इस मामले में पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था।


क्या कहना है पुलिस का 

थाना प्रभारी बलजीत सिंह बताते है कि असंध में हुई लूट की वारदात को लेकर पुलिस गंभीरता के साथ कार्य कर रही है और CCTV फुटेज को खंगाला जा रहा है।

 साथ ही अन्य साक्ष्यों के जरिए भी आरोपियों तक पहुंचने का प्रयास किया जा रहा है। 

पुलिस कप्तान द्वारा इस मामले की जांच के लिए 4 टीमों को गठन किया है। जल्द ही सभी बदमाश पुलिस की गिरफ्त में होंगे।