हिसार के हवाई अड्डे पर बन रहे रनवे से निर्माण सामग्री के भरे सैंपल, यहां होगी जांच

रनवे के बीच में तीन अलग-अलग स्थानों से निर्माण सामग्री के सैंपल भरे गए। इसके बाद इन सैंपलों काे जांच के लिए लोक निर्माण विभाग की रिसर्च लैब में गुणवत्ता जांच के लिए भेज दिया गया। इसके साथ ही आगामी कार्यवाही के लिए रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है।

 
हिसार के हवाई अड्डे पर बन रहे रनवे से निर्माण सामग्री के भरे सैंपल, यहां होगी जांच

हिसार में प्रशासन ने निर्माण कार्यों की सख्त मानीटरिंग शुरू कर दी है। इस बार हिसार एयरपोर्ट पर निर्माणाधीन रनवे से सैंपल भरने की जानकारी मिली है। सब डिविजनल विजिलेंस कमेटी से जुड़ अधिकारियों ने हवाई अड्डा पर बन रहे रनवे का निरीक्षण किया। इसके बाद यहां पर उन्होंने चल रहे निर्माण कार्य का सैंपल भी भरवाया।

खास बात है कि रनवे के बीच में तीन अलग-अलग स्थानों से निर्माण सामग्री के सैंपल भरे गए। इसके बाद इन सैंपलों काे जांच के लिए लोक निर्माण विभाग की रिसर्च लैब में गुणवत्ता जांच के लिए भेज दिया गया है। इसके साथ ही आगामी कार्यवाही के लिए रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है। रिपोर्ट में अगर सैंपल फेल मिले ताे प्रशासन सख्ती कदम भी उठा सकता है।

हालांकि इस मामले को अधिकारी रूटीन कार्यवाही बता रहे हैं। गौरतलब है कि 946 करोड़ रुपये की लागत से इंटीग्रेटिड एविएशन हब को तैयार किया जा रहा है। एयरपोर्ट पर पेसेंजर एवं कार्गो टर्मिनल बिल्डिंग, रनवे, टैक्सी वे, एप्रोन सिस्टम, एयरफील्ड लाइटिंग सिस्टम, एयर ट्रेफिक कंट्रोल टावर, एयरपोर्ट सपोर्ट फेसिलिटी, यूटिलिटी, इंफ्रास्ट्रक्चर रोड, स्टाफ एकमंडेशन, कार पार्किंग, पॉवर सप्लाई सिस्टम, ड्रेनेज सिस्टम, सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट आदि सुविधाएं होंगी।

वांकिंग ट्रैक से भी लिए निर्माण के सैंपल

सिर्फ एयरपोर्ट ही नहीं बल्कि शहर में हो रहे दूसरे विकास कार्य भी प्रशासन की नजर में है। एयरपोर्ट पर सैंपलिंग करने के बाद बालसमंद ड्रिस्ट्रीब्यूटरी के साथ बन रहे वाकिंग ट्रैक का भी निरीक्षण किया गया। यहां से भी निर्माण सामग्री के सैंपल भरवाए गए। इसे बाद इन दोनों निर्माण कार्यों के सैंपलों को लोक निर्माण विभाग में भेजा गया है। एयरपोर्ट की तरह ही वाकिंग ट्रैक भी हिसार के लोगों के लिए काफी महत्वपूर्ण है। यह हिसार का पहला वाकिंग ट्रेक होगा। इसके भव्य बनाने के लिए तेजी से कार्य कराया जा रहा है।