IAS Meera K: 4 बार में हुआ था UPSC एग्जाम क्लियर, इन 3 चीजों से खुद को संभाला

IAS officer Meera K: बीटेक के बाद उन्होंने यूपीएससी परीक्षा की तैयारी शुरू कर दी. हालांकि, वह तीन बार में यूपीएससी क्लियर नहीं कर पाईं. मीरा ने चौथे अटेंप्ट में सफलता का स्वाद चखा. 

 
: 4 बार में हुआ था UPSC एग्जाम क्लियर, इन 3 चीजों से खुद को संभाला

IAS Success Stories: हम सभी जानते हैं कि IAS या IPS अफसर बनना कोई बच्चों का खेल नहीं है. संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) या सिविल सेवा परीक्षा को पास करने के लिए दिन और रात का मेहनत करनी पड़ती है.

यूपीएससी परीक्षा को पास करना और आईएएस या आईपीएस अधिकारी बनना पढ़ाई करने वाले युवाओं का का सपना होता है, लेकिन यह सपना सभी का साकार नहीं हो पाता है. जहां कुछ कैंडिडेट्स पहले ही अटेंप्ट में सफल हो जाते हैं,

वहीं कुछ कई अटेंप्ट के बाद सफलता का स्वाद चखते हैं. आज हम केरल की मीरा के बारे में बात करने जा रहे हैं, जिन्होंने असफलता का सामना करने के बावजूद हार नहीं मानी और यूपीएससी 2020 की परीक्षा में AIR 6 हासिल की.

केरल की मीरा ने त्रिशूर के गवर्नमेंट इंजीनियरिंग कॉलेज से बीटेक किया. बीटेक के बाद उन्होंने यूपीएससी परीक्षा की तैयारी शुरू कर दी. हालांकि, वह तीन बार में यूपीएससी क्लियर नहीं कर पाईं

. मीरा ने चौथे अटेंप्ट में सफलता का स्वाद चखा.  असफलताओं ने उन्हें UPSC परीक्षाओं के लिए  तैयारी करने के लिए और ज्यादा मजबूत बना दिया.

मीरा के मुताबिक कैंडिडेट्स को सबसे पहले यूपीएससी प्रीलिम्स परीक्षा की तैयारी पर ध्यान देना चाहिए. करंट अफेयर्स पर लगातार ध्यान देना, अखबार पढ़ना और एनसीईआरटी की बु्क्स की मदद से अपना बेस मजबूत करना जरूरी

है. नोट्स बनाने और रिवीजन प्लान करने से सक्सेस मिलेगी.

मीरा के मामले में उन्होंने सबसे पहले सिलेबस को समझा और यूपीएससी की तैयारी के लिए अपना स्टडी मेटेरियल तैयार किया. वह कहती हैं

कि बेहतर प्लानिंग के साथ तैयारी करनी चाहिए. असफलताएं होंगी, लेकिन यदि कोई उन असफलताओं से सीखकर आगे बढ़ता है, तो वह सफल हो सकता है.

तैयारी करने वाले कैंडिडेट्स के लिए मीरा की सलाह
कड़ी मेहनत, और पॉजिटिव सोच के साथ मिलकर एक अच्छी प्लानिंग हमेशा मदद करती है. सांस लेने के लिए कुछ जगह होनी चाहिए और कुछ एंटरटेनमेंट में कभी-कभी शामिल होना भी जरूरी है.