Haryana news: जनता दरबार में एक्शन मोड में गृह मंत्री अनिल विज, लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों को लगाई कड़ी फटकार जानिए पूरी खबर
 
जनता दरबार में एक्शन मोड में गृह मंत्री अनिल विज, लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों को लगाई कड़ी फटकार जानिए पूरी खबर

अंबाला में हरियाणा के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने बुधवार को छावनी विधानसभा क्षेत्र के लोगों की समस्याओं को जनता दरबार लगाकर सुना। पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस में सैकड़ों लोगों की समस्याओं को सुनते समय मंत्री विज पूरे एक्शन मोड में नजर आए। उन्होंने मामलों में लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों को मौके पर ही कड़ी फटकार लगाई। दोपहर शुरू हुआ जनता दरबार देर शाम संपन्न हुआ।

जांच में ढिलाई बरतने पर महेशनगर, पंजोखरा और पड़ाव थाने के एसएचओ को लगाई फटकार

छावनी निवासी महिला ने गृह मंत्री विज को अपनी शिकायत देते हुए बताया कि उसका पति के साथ विवाद चल रहा है और वह अपने भाई के साथ मायके में रह रही है। मगर बिजली बोर्ड ने जेठ के नाम से बिजली के मीटर को डिफाल्टर करार देते हुए उसके खिलाफ बिजली बोर्ड विजिलेंस में मामला दर्ज करा दिया। महिला की शिकायत पर मंत्री विज ने एक्सइएन से जवाब-तलब किया और इसके बाद मामले में बिजली बोर्ड विजिलेंस के एसडीओ की गड़बड़ी पाई गई।

मंत्री विज ने बिजली बोर्ड के एमडी को फोन कर एसडीओ को सस्पेंड करने के निर्देश दिए हैं। इसी प्रकार दरबार में कैंट निवासी महिला ने बताया कि पति ने धोखे से उसके साथ शादी व दुराचार किया जबकि उसकी पहले भी शादी हो चुकी थी। महिला का आरोप था कि उसके द्वारा दर्ज कराए गए केस को पंजोखरा थाना पुलिस ने कैंसिल कर दिया। मामले में मंत्री विज ने मौके पर मौजूद पंजोखरा थाने के एसएचओ को कड़ी फटकार लगाई और इस मामले में एडीजीपी को जांच के निर्देश दिए। मंत्री विज ने यह भी निर्देश दिए कि जांच में यह भी चैक किया जाए कि किसने महिला की एफआइआर रद्द की और उसके खिलाफ ठोस कार्रवाई अमल में लाई जाए।

दहेज के मामले में रिकवरी न होने पर महेशनगर एसएचओ को फटकार

गृह मंत्री अनिल विज के समक्ष महिला फरियादी ने शिकायत देते हुए कहा कि दहेज के केस में पुलिस द्वारा उसका सामान अब तक रिकवर नहीं किया गया है। महिला का आरोप था कि महेशनगर पुलिस द्वारा उसकी शिकायत पर कोई ठोस कार्रवाई नहीं कर रही है। मंत्री विज ने मामले में महेशनगर थाने के एसएचओ को मौके पर कड़ी फटकार लगाते हुए कहा कि महिलाओं की शिकायतों को प्राथमिकता से लिया जाए।

उन्होंने मामले में तुरंत कार्रवाई कर इसकी रिपोर्ट देने के निर्देश दिए। इसी प्रकार महेशनगर थाने से संबंधित कुछ अन्य मामलों में भी मंत्री विज ने एसएचओ को फटकार लगाई और मामलों में कार्रवाई करने के निर्देश दिए।वहीं पड़ाव थाना क्षेत्र निवासी महिला ने बेटे की मौत के मामले में पड़ाव थाना पुलिस द्वारा ठोस जांच नहीं होने की शिकायत की। गृह मंत्री विज ने एसएचओ पड़ाव से मौके पर ही इस केस से संबंधित जांच रिपोर्ट मांगी। एसएचओ द्वारा दी गई जांच रिपोर्ट से मंत्री विज संतुष्ट नहीं हुए और उन्होंने एसएचओ को फटकार लगाई और कहा कि मामले में जांच को और तेज किया जाए।

तहसीलदार की हुई खिंचाई

गृह मंत्री अनिल विज के समक्ष छावनी निवासी व्यक्ति ने शिकायत देते हुए कहा कि उसने अपनी जमीन की रजिस्ट्री के लिए तहसील में आवेदन किया था। मगर तहसीलदार की ओर से रजिस्ट्री नहीं की जा रही है। मौके पर ही मौजूद तहसीलदार ने बताया कि डीटीपी की ओर से आब्जेक्शन है। इस वजह से रजिस्ट्री नहीं हो रही है। मंत्री विज ने मौके पर ही डीटीपी से बात की और डीटीपी ने अपनी ओर से कोई आब्जेक्शन नहीं लगाए जाने की जानकारी दी।

इस पर मंत्री विज आग-बबूला हो गए और उन्होंने तहसीलदार को जनता दरबार में ही सबके समक्ष फटकार लगाई और कहा कि जनता को क्यों परेशान किया जा रहा है। मौके पर अन्य कई लोगों ने तहसीलदार द्वारा रजिस्ट्री नहीं करने की शिकायत की। इस पर मंत्री विज ने विभाग के एमडी व अन्य उच्च अधिकारियों से बात कर इस समस्या का समाधान करने के निर्देश दिए।

कांग्रेस नेता एवं पूर्व प्रवक्ता ने की मंत्री विज की तारीफ

गृह मंत्री अनिल विज की कार्यशैली की प्रशंसा विपक्षी दलों के नेता कर रहे हैं। जनता दरबार के दौरान कांग्रेस नेता एवं पूर्व प्रदेश प्रवक्ता ओंकार नाथी ने अपनी समस्या मंत्री विज के समक्ष रखी तो मंत्री विज ने तुरंत अधिकारियों को फोन कर मामले के समाधान के निर्देश दिए। मंत्री विज की इस कार्यप्रणाली को देख कांग्रेस नेता ओंकार नाथी ने जनता दरबार में बोला कि मंत्री विज हमारे असल दीनबंधु हैं, हरियाणा में सही मायने में कोई दीनबंधु है तो वह अनिल विज है। वह बेशक विपक्ष में है, मगर उन्होंने हमेशा सकारात्मक कार्य करते हुए उनकी समस्याओं का समाधान किया है उन्होंने कहा अनिल विज असल में दीनबंधु हैं जो जनता की सेवा में लगे हैं।