Haryana News : हरियाणा के भिवानी, महेंद्रगढ़, करनाल, पिंजौर में प्लेन खड़े करने के लिए बनेंगे अतिरिक्त हैंगर, जानिये क्या है सरकार की योजना

हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने नागरिक उड्डयन विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि प्रदेश की सभी एयर-स्ट्रिप्स पर एटीएस (एयर ट्रैफिक कंट्रोल) और फायर-सिस्टम लगाया जाए। उन्होंने अतिरिक्त हैंगर बनाए जाने के भी निर्देश दिए ताकि एयर स्ट्रिप्स पर प्लेन सुरक्षित खड़े हो सकें।
 
हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने नागरिक उड्डयन विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि प्रदेश की सभी एयर-स्ट्रिप्स पर एटीएस (एयर ट्रैफिक कंट्रोल) और फायर-सिस्टम लगाया जाए। उन्होंने अतिरिक्त हैंगर बनाए जाने के भी निर्देश दिए ताकि एयर स्ट्रिप्स पर प्लेन सुरक्षित खड़े हो सकें। डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला, जिनके पास नागरिक उड्डयन विभाग का प्रभार भी है, ने मंगलवार को यहां ‘डिवलेपमेंट इंटीग्रेटिड एविएशन हब’ की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता की।  डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने बैठक के बाद जानकारी दी कि हिसार एयरपोर्ट के अंदर से होकर गुजरने वाली सड़क को बंद किया जाएगा ताकि एयरपोर्ट की बाउंड्री-वॉल और पुराने रनवे को नए रनवे से जोड़ने के लिंकेज-कार्य को अंजाम दिया जा सके। उन्होंने कहा कि स्थानीय लोगों की मांग पर एयरपोर्ट के बाहर से वैकल्पिक रोड बना दिया गया है ताकि लोगों को आने-जाने में सुविधा रहे।डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने बताया कि ‘डिवलेपमेंट इंटीग्रेटिड एविएशन हब’ के कार्य में तेजी लाने के लिए जेई, एसडीओ समेत अन्य उच्चाधिकारियों की वहां स्थायी नियुक्ति की जा रही है ताकि निर्धारित समय में काम को पूरा किया जा सके। यही नहीं अतिरिक्त मुख्य सचिव के स्तर पर हर पखवाड़ा कार्य की प्रगति की समीक्षा की जाएगी ताकि निर्धारित अवधि में कार्य संपन्न हो सकें।  उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने नागरिक उड्डयन विभाग के अन्य प्राजेक्ट्स की समीक्षा के बारे में बताया कि प्रदेश की करनाल की एयर-स्ट्रिप के वर्तमान 1000 मीटर के रनवे को 2000 मीटर तक बढ़ाने के लिए तकनीकी संभाव्यता जांचने के निर्देश दिए गए हैं। इस एयर-स्ट्रिप्स पर लाइटें लगी हुई हैं, रनवे बढ़ाने पर दिल्ली की नाइट-लैंडिंग भी यहां पर हो सकेंगी। करनाल में ही टर्मिनल-बिल्डिंग बनाने के लिए प्लान की जा रही है, इसके लिए निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि भिवानी, महेंद्रगढ़, करनाल, पिंजौर आदि एयर-स्ट्रिप्स पर अतिरिक्त हैंगर लगाने के निर्देश दिए गए हैं ताकि प्लेन सुरक्षित खड़े हो सकें। इसके अलावा, राज्य की सभी एयर-स्ट्रिप्स पर एटीएस और फायर-सिस्टम लगाने के निर्देश दिए गए हैं। दुष्यंत चौटाला ने बताया कि हरियाणा में नागरिक उड्डयन विभाग द्वारा कई प्रोजेक्ट्स पर कार्य किया जा रहा है, भविष्य में प्रदेश में तेजी से सकारात्मक बदलाव देखने को मिलेगा।

Haryana News :  हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने नागरिक उड्डयन विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि प्रदेश की सभी एयर-स्ट्रिप्स पर एटीएस (एयर ट्रैफिक कंट्रोल) और फायर-सिस्टम लगाया जाए। उन्होंने अतिरिक्त हैंगर बनाए जाने के भी निर्देश दिए ताकि एयर स्ट्रिप्स पर प्लेन सुरक्षित खड़े हो सकें। डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला, जिनके पास नागरिक उड्डयन विभाग का प्रभार भी है, ने मंगलवार को यहां ‘डिवलेपमेंट इंटीग्रेटिड एविएशन हब’ की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता की।

डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने बैठक के बाद जानकारी दी कि हिसार एयरपोर्ट के अंदर से होकर गुजरने वाली सड़क को बंद किया जाएगा ताकि एयरपोर्ट की बाउंड्री-वॉल और पुराने रनवे को नए रनवे से जोड़ने के लिंकेज-कार्य को अंजाम दिया जा सके। उन्होंने कहा कि स्थानीय लोगों की मांग पर एयरपोर्ट के बाहर से वैकल्पिक रोड बना दिया गया है ताकि लोगों को आने-जाने में सुविधा रहे।डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने बताया कि ‘डिवलेपमेंट इंटीग्रेटिड एविएशन हब’ के कार्य में तेजी लाने के लिए जेई, एसडीओ समेत अन्य उच्चाधिकारियों की वहां स्थायी नियुक्ति की जा रही है ताकि निर्धारित समय में काम को पूरा किया जा सके। यही नहीं अतिरिक्त मुख्य सचिव के स्तर पर हर पखवाड़ा कार्य की प्रगति की समीक्षा की जाएगी ताकि निर्धारित अवधि में कार्य संपन्न हो सकें।

उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने नागरिक उड्डयन विभाग के अन्य प्राजेक्ट्स की समीक्षा के बारे में बताया कि प्रदेश की करनाल की एयर-स्ट्रिप के वर्तमान 1000 मीटर के रनवे को 2000 मीटर तक बढ़ाने के लिए तकनीकी संभाव्यता जांचने के निर्देश दिए गए हैं। इस एयर-स्ट्रिप्स पर लाइटें लगी हुई हैं, रनवे बढ़ाने पर दिल्ली की नाइट-लैंडिंग भी यहां पर हो सकेंगी। करनाल में ही टर्मिनल-बिल्डिंग बनाने के लिए प्लान की जा रही है, इसके लिए निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि भिवानी, महेंद्रगढ़, करनाल, पिंजौर आदि एयर-स्ट्रिप्स पर अतिरिक्त हैंगर लगाने के निर्देश दिए गए हैं ताकि प्लेन सुरक्षित खड़े हो सकें। इसके अलावा, राज्य की सभी एयर-स्ट्रिप्स पर एटीएस और फायर-सिस्टम लगाने के निर्देश दिए गए हैं। दुष्यंत चौटाला ने बताया कि हरियाणा में नागरिक उड्डयन विभाग द्वारा कई प्रोजेक्ट्स पर कार्य किया जा रहा है, भविष्य में प्रदेश में तेजी से सकारात्मक बदलाव देखने को मिलेगा।