अपराध

सेक्स रैकेट चलाने का तरीका जानकर दंग रह गई पुलिस, दिल्ली-गुरुग्राम की लड़कियां करती थी ये काम

 

पुलिस की टीम ने एक ऐसे गिरोह का पर्दाफाश किया है जो कि वेबसाइट के जरिये सैक्स रेकेट चला रहे थे। ये लोग वेबसाइट पर ही लड़कियों की फोटो के जरिये ग्राहकों को पंसद करवाते थे और उसके बाद सप्लाई करते थे।

जानकारी के मुताबिक गुरुग्राम की दो लड़कियों समेत नौ लोगों को पुलिस ने पकड़ा है। इंदौर पुलिस को इसकी गुप्त सूचना मिली थी जिसके बाद पुलिस की टीम ने दबिश दी तो इसका खुलासा हुआ। इस गिरोह में ज्यादातर लड़कियां दिल्ली की बताई जा रही है।

पुलिस की टीम ने जब छापेमारी की तो पता चला कि स्कीम नंबर 114 में सेक्स रैकेट चल रहा है। पुलिस ने यहां से गुरुग्राम की दो युवतियों और रायसेन के करीब सात लड़कों को काबू किया है, इन लोगों पर पूरे गिरोह का पर्दाफाश किया है।

पुलिस के अनुसार सेक्स रैकेट चलाने वालों ने वेबसाइट बनवाई थी। इसके माध्यम से ही कामकाज चलता था। वेबसाइट को खोलते ही कॉल और मैसेज आते थे। ग्राहक से संपर्क होते ही उसे युवतियों के फोटो भेजे जाते थे। इसके बाद सौदा तय होने पर युवतियों को संबंधित के पास भेजा जाता था। इसमें दलाल के रूप में नीरज का नाम सामने आया है जो पूरी प्रक्रिया करवाता था।

इंदौर एसपी आशुतोष बागरी के अनुसार वेबसाइट से ही सबकुछ तय होता था। यहीं से सरगना ग्राहक की तलाश करते थे। सौदा पक्का होने पर युवती को कहां व कैसे पहुंचाना है इसकी बात होती थी। गाड़ी और उसके नंबर तक तय किए जाते थे।

इंदौर के स्कीम नंबर 114 में फ्लैट किराए से ले रखा था। यहीं से पूरा रैकेट चलता था। पूछताछ के दौरान कुछ लड़कियों ने बताया कि वे दिल्ली में अलग-अलग जगह नौकरी करती थी। वहां उनके साथ शारीरिक संबंध की कोशिश की गई जिसके बाद उन्होंने इस पेशे को पैसा कमाने का माध्यम बनाया।

वेबसाइट पर खुद के फोटो डाले जिसके बाद ग्राहकों से संपर्क होता था। वेबसाइट से ही तय होता था कि कहां और किसके पास जाना है। पुलिस अब इस मामले में आगे की कड़ियां तलाश रही है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top