लिंग जांच गिरोह ने 55 हजार में सौदा किया तय, टीम की भनक लगते ही उठाया ये कदम

Gender investigation gang set to deal in 55 thousand

My Sirsa, Jind

हरियाणा के जींद में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने मंगलवार दोपहर बाद बाल भवन रोड स्थित शशि शर्मा अस्पताल पर लिंग जांच का भंडाफोड किया है। छापेमारी की भनक मिलते ही अस्पताल संचालिका वहां से फरार हो गई। छापामार टीम ने अस्पताल की अल्ट्रासाउंड मशीन तथा कमरे को सील कर दिया है। बताया जाता है कि लिंग जांच के लिए 55 हजार रुपये में सौदा हुआ था।

Gender investigation gang set to deal in 55 thousand

गर्भवती महिला का न तो रजिस्टर में नाम दर्ज था और न ही एफ फार्म भरा हुआ था और न ही आईडी जमा थी। फिलहाल स्वास्थ्य विभाग की टीम मामले की जांच कर रही है। स्वास्थ्य विभाग को सूचना मिली थी कि शशि शर्मा अस्पताल में गर्भ में लिंग की जांच की जाती है। जिसके आधार पर छापेमारी के टीम बनाई गई। छापेमारी की कमान खुद सीएमओ डा. मनजीत सिंह ने संभाली। जिसमे सामान्य अस्पताल के नोडल अधिकारी डा. पालेराम को भी शामिल किया गया।

Gender investigation gang set to deal in 55 thousand

55 हजार की राशि के साथ डिकोए को अस्पताल पर भेज दिया गया। जहां पर महिला का अल्ट्रासाउंड किया गया। छापेमारी की भनक लगते ही अस्पताल संचालिका वहां से खिसक गई। टीम ने जब छापेमारी की तो सात गर्भवती महिलाओं के अल्ट्रासाउंड किए जा चुके थे। रजिस्टर में सिर्फ छह गर्भवती महिलाओं का रिकार्ड दर्ज था। जबकि डिकोए का नाम न तो रजिस्टर में दर्ज था और न ही उसका एफ फार्म भरा गया था। न ही डिकोए का आईडी प्रूफ लिया गया था।

Gender investigation gang set to deal in 55 thousand

छापामार टीम ने अल्ट्रासाउंड मशीन तथा कमरे को सील कर दिया। छापेमारी के दौरान पुलिस का सहारा भी लिया गया। जिस प्रकार से अस्पताल संचालिका अल्ट्रासाउंड करने के बाद अचानक निकल गई उससे साफ जाहिर है कि किसी व्यक्ति ने छापेमारी की सूचना अस्पताल संचालिका को दे दी थी।

Gender investigation gang set to deal in 55 thousand

जिसके चलते वह तेजी से अल्ट्रासाउंड कमरे से निकल गई। जब छापामार टीम ने मौके पर पहुंची तो वह वहां पर मौजूद नहीं थी। छापामार टीम ने जब अस्पताल के सीसी टीवी कैमरों के बारे में जानकारी जुटाई तो पता चला कि अस्पताल में लगे सीसी टीवी कैमरे खराब हैं।

Gender investigation gang set to deal in 55 thousand

सीएमओ डा. मनजीत ने बताया कि लिंग जांच की सौदेबाजी 55 हजार रुपये में हुई थी। जब टीम ने छापेमारी की तो अस्पताल संचालिक वहां से खिसक चुकी थी। अल्ट्रासाउंड मशीन व कमरे को सील कर दिया गया है। अस्पताल में लगे सीसीटीवी कैमरे भी खराब है, अस्पताल के रिकार्ड में जिस महिला का अल्ट्रासाउंड हुआ उसका कोई रिकार्ड दर्ज नहीं है। न ही एफ फार्म भरा गया है और न ही आईडी प्रूफ लिया गया। फिलहाल स्वास्थ्य विभाग की टीम मामले की जांच कर रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *