'अगर उमरान ने तोड़ा मेरा रिकॉर्ड तो..' शोएब अख्तर ने बॉलिंग को लेकर भारतीय पेसर को दी बड़ी सलाह
 
asdfgg
नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के पास इस समय दुनिया का सबसे बेहतरीन पेस अटैक है। इतना ही नहीं आईपीएल के 15वें सीजन में कई युवा गेंदबाजों के प्रदर्शन ने भारतीय टीम के तेज गेंदबाजों की संख्या में बढ़ोतरी ही की है। आईपीएल 2022 में मोहसिन खान, उमरान मलिक, चेतन साकरिया, टी नटराजन, कार्तिक त्यागी, मुकेश चौधरी, दर्शन नलकंडे, अर्शदीप सिंह जैसे गेंदबाजों ने अपने प्रदर्शन से दुनिया भर के दिग्गजों का ध्यान अपनी ओर खींचा है और अपनी टीम के लिये मैच जिताऊ प्रदर्शन किया।

ggg
इस दौरान स्पीड के मामले में उमरान मलिक ने अपना एक अलग नाम बनाया है जिन्होंने इस सीजन की सबसे तेज और आईपीएल इतिहास की दूसरी सबसे तेज गेंद फेंकने का काम किया। IPL 2022 Photo Credit: BCCI/IPL उमरान मलिक ने इस सीजन खेले गये 12 मैचों में 18 विकेट अपने नाम किये हैं और लगातार 150 से ऊपर की गति से गेंदबाजी की है। इस दौरान उन्होंने 157 किमी प्रति घंटे की गति से गेंद फेंक कर यह रिकॉर्ड अपने नाम किया है। अपनी गति से उमरान मलिक ने दुनिया भर के दिग्गजों को प्रभावित किया है, जिसके चलते कई क्रिकेटर्स का मानना है कि उन्हें इस साल ऑस्ट्रेलिया में खेले जाने वाले टी0 विश्वकप की भारतीय टीम में जगह मिलनी चाहिये

SRH vs KKR: हैदराबाद के लिये चमके उमरान-नटराजन, रसेल ने 7 गेंदों में 36 रन ठोंक पलटा मैच टी20 विश्वकप 2022 में मिल सकता है मौका टी20 विश्वकप 2022 में मिल सकता है मौका जहां एक ओर उनकी गति चयन के लिये सबसे बड़ी ताकत बन रही है तो वहीं पर अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अनुभव की कमी दुश्मन बन रही है। हालांकि इस बात से सभी सहमत हैं कि उनका भारतीय टीम के लिये खेलना बिल्कुल तय है। इस बीच पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने इस गेंदबाज पर अपनी राय दी है और कहा कि वो भारत के लिये जरूर खेलेगा लेकिन उसे खुद को चोटों से बचाये रखना होगा। अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट के इतिहास में शोएब अख्तर के नाम सबसे तेज गेंद फेंकने का रिकॉर्ड है जिन्होंने लगभग दो दशक पहले 160 किमी प्रति घंटे (100 मील) की गति से गेंद फेंकी थी।

अख्तर ने उमरान की तारीफ करते हुए कहा कि वो चाहते हैं कि उमरान मलिक उनके इस रिकॉर्ड के क्लब में शामिल होने वाले खिलाड़ी बने। लंबे समय तक उमरान को खेलते देखना चाहते हैं अख्तर लंबे समय तक उमरान को खेलते देखना चाहते हैं अख्तर स्पोर्टसकीड़ा से बात करते हुए अख्तर ने कहा,'मैं उनके लिये एक लंबा करियर चाहता हूं, कुछ दिन पहले किसी ने मुझे सबसे तेज गेंद फेंकने के रिकॉर्ड के 20 साल पूरे होने की बधाई दी और कहा कि जब से मैंने वो गेंद फेंकी तब से किसी और ने उससे तेज गेंद नहीं फेंकी है। लेकिन मैंने कहा कि कोई न कोई जरूर आयेगा जो उस रिकॉर्ड को तोड़ कर दिखायेगा। मुझे काफी खुशी होगी अगर उमरान मेरा रिकॉर्ड तोड़ते हैं लेकिन ऐसा करने के लिये उन्हें खुद को चोट से बचाये रखना होगा।'

अख्तर चाहते हैं कि उमरान तोड़ें उनका रिकॉर्ड अख्तर चाहते हैं कि उमरान तोड़ें उनका रिकॉर्ड शोएब अख्तर ने आगे बात करते हुए कहा कि वो उमरान मलिक को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर खेलते देखना चाहते हैं और इस दौरान वो यही चाहते हैं कि चोट की वजह से उनका करियर खतरे में न पड़े। उन्होंने कहा,'मैं उन्हें अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर खेलते हुए देखना चाहता हूं क्योंकि वो वहीं के लिये बने हुए हैं। मौजूदा समय में बहुत सारे लोग नहीं हैं जो 150 की स्पीड या उससे ज्यादा की गति से गेंदबाजी कर सकते हैं। मैं चाहता हूं कि उमरान के मन में 100 मील प्रति घंटे की स्पीड में शामिल होने का लक्ष्य रहे और मुझे काफी खुशी होगी अगर वो इस क्लब में शुमार होते हैं। ऐसे में उन्हें चोट से बचकर रहना होगा क्योंकि वो उनके करियर पर लगाम लगा सकती है।' अख्तर ने बताया कैसे मैनेज करें वर्कलोड अख्तर ने बताया कैसे मैनेज करें वर्कलोड उमरान मलिक के वर्कलोड पर बात करते हुए अख्तर ने कहा कि बीसीसीआई को आगे बढ़कर इस भारतीय टैलेंट की देखभाल करनी चाहिये।


उल्लेखनीय है कि यूएई में खेले गये टी20 विश्वकप 2021 में उमरान मलिक बतौर नेट बॉलर टीम के साथ गये थे और आईपीएल के बाद साउथ अफ्रीका और आयरलैंड के खिलाफ खेले जाने वाले 7 टी20 मैचों में चयन समिति के निशाने पर होंगे। उन्होंने कहा,'बीसीसीआई और यूथ अकेडमी को उमरान के वर्कलोड पर ध्यान देना होगा। उन्हें अब तकनीक का इस्तेमाल कर एडवांस तरीके से सीखना होगा। उनकी गेंदबाजी पर नजर रखनी होगी। जब आप एक कार को बहुत तेज चलाते हैं तो वहां पर उसका टायर फटने और इंजन के खराब होने का मौका होता है। जिसके चलते उसे दोबारा फैक्ट्री में भेजकर ठीक करवाना पड़ता है। ऐसे में उमरान को ऑफ सीजन के दौरान अपनी ट्रेनिंग को दोगुना करना चाहिये, जिससे उनके वर्कलोड का दबाव कम होगा।'