हिसार के 880 सरकारी स्कूलों में पहुंचीं 1.37 लाख किताबें, चेक करें अपने स्कूल का नाम
 
sfca
कोरोना काल के बाद यानि ढाई साल बाद सरकार ने स्कूलों में एक लाख 37 हजार किताबें भेजी हैं। खास बात है कि ये किताबें पहली से 12वीं कक्षा में पढ़ने वाले विद्यार्थियों के लिए भेजी
 

HR Breaking News :  हिसार । ढाई साल से कोविड काल में मुश्किल हालात में बच्चों ने पढ़ाई को जारी रखा। सरकारी स्कूलों में विद्यार्थियों को किताबों के अभाव के कारण काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। 
अब शिक्षा निदेशालय ने हिसार जिले के 880 सरकारी स्कूलों में विद्यार्थियों के लिए नेशनल बुक ट्रस्ट की कुल 1.37 लाख किताबें दी हैं। जो सभी सरकारी स्कूलों की लाइब्रेरी में रखी जाएंगी।


किताबों में ये है खासियत 


खास बात है कि ये किताबें पहली से 12वीं कक्षा में पढ़ने वाले विद्यार्थियाें के लिए भेजी है। इसका फायदा यह हाेगा कि कक्षानुसार ये किताबें पाठ्यक्रमाें से जुड़ी हैं, जिसमें विद्यार्थियाें काे जल्दी समझाने के लिए राेचक तथ्य जैसे कहानियां, चित्र का इस्तेमाल किया है। ताकि इस पैटर्न के कारण विद्यार्थियाें काे अपने पाठ‌्यक्रम से जुड़े अध्याय जल्दी से समझ सकें। शिक्षा िनदेशालय ने इसके लिए समग्र शिक्षा और बीईओ की ड्यूटी लगाई, जाे सभी स्कूल मुखियाें से संपर्क कर उन्हें नेशनल बुक ट्रस्ट की किताबें साैंपी जाएंगी।