My sirsa
नौवीं कक्षा की छात्रा ने किया सुसाइड, स्वजनों ने पुलिस को बताया ये कारण
पानीपत के सैनी कालोनी में नौवीं कक्षा की छात्रा ने घर पर संदिग्ध हालात में फंदा लगा लिया। स्वजनों ने पुलिस को बताया कि छात्रा मानसिक रूप से परेशान थी। इसी वजह से फंदा लगा लिया। सैनी कालोनी की 14 वर्षीय चिंता उर्फ सुनीता कालोनी के ही स्कूल की नौवीं कक्षा की छात्रा थी। चिंता
 
नौवीं कक्षा की छात्रा ने किया सुसाइड, स्वजनों ने पुलिस को बताया ये कारण

पानीपत के सैनी कालोनी में नौवीं कक्षा की छात्रा ने घर पर संदिग्ध हालात में फंदा लगा लिया। स्वजनों ने पुलिस को बताया कि छात्रा मानसिक रूप से परेशान थी। इसी वजह से फंदा लगा लिया। सैनी कालोनी की 14 वर्षीय चिंता उर्फ सुनीता कालोनी के ही स्कूल की नौवीं कक्षा की छात्रा थी। चिंता चार बहनों व दो भाइयों में तीसरे नंबर की थी। सोमवार को पिता रामविलास  व उसकी माता ओल्ड इंडस्ट्रियल एरिया स्थित एक फैक्ट्री में काम पर गए थे। दो बहनें व छोटे भाई स्कूल में गए थे। घर पर चिंता व बड़ी बहन ज्योति थी।

स्वजनों पुलिस को बताया कि छात्रा मानसिक रूप से परेशान थी

ज्योति ने पड़ोसियों को बताया और पिता रामविलास को फोन कर घटना की जानकारी दी। पड़ोसियों को इकट्ठा किया। पड़ोसियों ने पुलिस को इसकी सूचना दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर दरवाजे को धक्का मारा और कुंडी टूट गई। शव को बाहर निकाला। मंगलवार को पुराना औद्योगिक थाना पुलिस ने पोस्टमार्टम  करवाकर शव को स्वजनों को सौंप दिया। इस मामले की जांच कर रहे हवलदार विकास कुमार ने बताया कि छात्रा मानसिक रूप से परेशान थी। इसी कारण से छात्रा ने फंदा लगाया है।

बड़ी बहन मार्केट में खरीदारी के बाद घर लौटी तो छोटी बहन फंदे पर लटकी थी

स्वजनों के अनुसार दोनों बहनों ने दोपहर 12 बजे खाना खाया था। इसके बाद ज्योति मार्केट में घर का सामान खरीदने के लिए चली गई। वह ढाई बजे मार्केट से लौटी तो चिंता का कमरा अंदर से बंद था। ज्योति को लगा कि चिंता सो रही है इसलिए उसने दरवाजा खुलवाने की कोशिश नहीं की। जब पांच बजे तक दरवाजा नहीं खुला तो ज्योति ने दरवाजा खटखटाया, लेकिन अंदर से कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली। ज्योति ने खिड़की से झांक कर देखा तो चिंता ने पंखे से चुन्नी लगाकर फंदा लगा रखा था।