पत्नी से अवैध संबंध के शक में स्कूल संचालक ने की थी युवक की हत्या, कुल्हाड़ी से किए थे 12 वार

करनाल में अवैध संबंध के शक में स्कूल संचालक ने पहले अपनी पत्नी को मौत के घाट उतारा। फिर पूर्व कर्मी नवीन की बेरहमी से हत्या कर दी थी। स्कूल संचालक ने नवीन पर कुल्हाड़ी से 12 और चाकू से जांघों पर 2 वार किए थे।

 
aropi

करनाल : पत्नी के अवैध संबंधों के शक में आरोपित स्कूल संचालक विश्वजीत ने नवीन कुमार की इतनी बेरहमी से हत्या की थी कि उस पर कुल्हाड़ी से 12 और चाकू से दो वार किए थे। चाकू से जांघों पर ही वार किए गए। पुलिस ने जहां मौके से ही कुल्हाड़ी बरामद कर ली थी तो वहीं अब चाकू भी बरामद किया जाएगा।

इसी क्रम में आरोपित ने अपनी पत्नी मीना की हत्या कैसे और कहां की और फिर उसे किस तरह जलाया गया, यह निशानदेही भी कराई जाएगी। इसके लिए आरोपित को मंगलवार को अदालत में पेश कर पुलिस ने तीन दिन के रिमांड पर लिया है। हालांकि अभी पुलिस दोहरे हत्याकांड में बच्चों पर कार्रवाई से किनारा कर रही है, लेकिन अभी पूरे साक्ष्य जुटाए जा रहे हैं, जिसके चलते कार्रवाई आगे भी बढ़ाई जा सकती है

नवीन कुमार की हत्या के आरोप में गिरफ्त में लिया

बता दें कि आरोपित विश्वजीत को सोमवार को ही शिव कालोनी में रहने वाले नवीन कुमार की हत्या के आरोप में गिरफ्त में लिया था। सीआइए टू इंचार्ज मोहन लाल के मुताबिक आरोपित ने प्रारंभिक पूछताछ में माना था कि पहले स्कूल में ही कर्मी रहे नवीन कुमार के साथ अवैध संबंधों के शक के चलते उसने ही अपनी पत्नी की क्रिकेट बैट से पीट-पीट कर हत्या कर दी थी, जिसका शव घर के कमरे के बाहर ही बच्चों के साथ मिलकर स्कूल परिसर में जला दिया था। दोनों ही वारदातों को अंजाम देने के बाद आरोपित ने अपने कपड़े, जूते भी कहीं छिपा दिए।

चाकू, कपड़े और जूते बरामद करेगी पुलिस

मामले की जांच के तहत अब पुलिस चाकू के साथ कपड़े और जूते भी बरामद करेगी। इसी तरह आरोपित का मोबाइल भी बरामद करके खंगाला जाएगा, ताकि उससे आगे कोई सुराग लगाया जा सके। उधर नवीन कुमार के परिवार में मातम पसरा हुआ है और स्वजन आरोपित के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। नवीन के पिता जिले सिंह के अनुसार नवीन को आरोपित विश्वजीत ही बुलाकर ले गया था और जब वह वापस नहीं लौटा तो वे तलाश करते हुए स्कूल तक भी पहुंच गए थे। लेकिन वह उन्हें गुमराह करता रहा।

गेट खोलने से किया इंकार

नवीन एक गांव में होने का बहाना कर घरौंडा से आगे उन्हें ले गया और फिर वापस स्कूल आए तो गेट खोलने से भी इंकार कर दिया था। किसी तरह वे अंदर जा सके तो हर कमरे की तलाशी लेने लगे, जिस दौरान नवीन का खून से लथपथ शव एक कमरे में पड़ा मिला था। इसके बाद आरोपित उनके पास से फरार हो गया था।

बच्चों की कम संख्या के कारण बंद था स्कूल

आरोपित स्कूल संचालक विश्वजीत ने स्कूल परिसर में ही अपना घर बनाया हुआ है, जहां वह परिवार के साथ रह रहा है। स्कूल पिछले करीब पांच साल से बंद पड़ा है क्योंकि इसमें बच्चों की संख्या काफी कम हो गई थी। इससे नुकसान बढ़ रहा था। पहले स्कूल में ही कर्मी रहे नवीन कुमार के साथ पत्नी के अवैध संबंध का शक हुआ तो आरोपित विश्वजीत व उसकी पत्नी के बीच अनबन इस कदर बढ़ गई थी कि मामला पुलिस व अदालत तक भी पहुंच गया था। पत्नी अधिकतर समय मायके ही रहने लगी थी, लेकिन वारदात से कुछ दिनों पहले वह किसी तरह अपने घर उसे ले आया था।

चाकू से किसने वार किए, लगाया जाएगा पता : मोहन लाल

इंस्पेक्टर मोहन लाल का कहना है कि चिकित्सकों द्वारा की गई जांच में पाया कि नवीन पर कुल्हाड़ी से 12 तो चाकू से दो वार किए गए थे। चाकू से वार जांघ पर ही किए गए। अब चाकू भी बरामद किया जाएगा तो ये वार किसने किए, यह भी पता लगाया जाएगा। दोनों हत्याओं के संबंध में रिमांड के दौरान आरोपित को साथ लेकर निशानदेही कराई जाएगी, ताकि पूरे मामले से पर्दा उठाया जा सके।