Madhubani crime: मधुबनी के कनकपुर में दो गुटों के बीच हिंसक झड़प, लूटपाट व आगजनी
Madhubani crime मारपीट की घटना में छह लोग घायल घरों व दुकानों में लगाई आग। पुलिस पर मिर्च पाउडर से हमला। पुलिस ने आठ उपद्रवियों को किया गिरफ्तार। पुलिस का कहना है कि मामला काफी गंभीर है। जांच पड़ताल के बाद होगी कार्रवाई।
 
 
Madhubani crime

प्रखंड क्षेत्र की नरपतिनगर पंचायत के कनकपुर गांव में आपसी रंजिश व पूर्व में हुई पंचायत के दौरान विवाद को लेकर दो गुटों के बीच हिंसक झड़प हो गई। दोनों गुटों में मारपीट, लूटपाट, तोड़फोड़ व आगजनी की घटना हुई। इसमें आधा दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए। सूचना पर पहुंची पुलिस पर मिर्च पाउडर से उपद्रवियों ने हमला कर दिया। पंडौल व सकरी थाने की पुलिस ने मधुबनी पुलिस लाइन से आए जवानों के सहयोग से घटना पर काबू पाया। मामले में चार अलग-अलग प्राथमिकी दर्ज की गई है। जिसमें 93 लोगों को नामजद किया गया है। एक गुट से राजकुमार पासवान के बयान पर 28 व दूसरे गुट की ओर से श्रवण पासवान के बयान पर 40 लोगों के विरुद्ध नामजद प्राथमिकी दर्ज की गई। पुलिस ने आठ नामजद आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है।

पंचायत के बाद हुई थी मारपीट
बताया गया कि छठ पूजा के दौरान सुनील पासवान व सुरेश पासवान के बीच हुए विवाद को लेकर बीते सोमवार को गांव में पंचायत हुई थी। इसमें सरपंच ने सुनील पासवान गुट के प्रत्येक सदस्य पर डेढ़-डेढ़ हजार रुपये का जुर्माना लगाया। इससे आक्रोशित होकर उसी शाम में सुनील पासवान और उसका भाई मोहन पासवान सहित 20 नामजद आरोपित दूसरे गुट के कमलेश पासवान के घर पर पहुंचकर गाली-गलौच करते हुए मारपीट करने लगे। इस दौरान उन लोगों ने घर में लूटपाट व तोड़फोड़ भी की थी। इस बीच कमलदेव पासवान की पत्नी जीबछी देवी खेत से धान काट कर घर आ रही थी। रास्ते में ही एक गुट के राजेंद्र पासवान व शीतल पासवान सहित पांच नामजद आरोपित उसके साथ मारपीट करने लगे। उसके एस्बेस्टस के घर को भी तोड़फोड़ कर नष्ट कर दिया। इस मामले में 22 नवंबर को जीबछी देवी व कमलेश पासवान के बयान पर सकरी थाने में दो अलग -अलग प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी। सकरी थाने में दोनों ओर से प्राथमिकी दर्ज कराने के बाद तनाव और बढ़ गया। इसके बाद बुधवार की देर शाम को दोनों गुट के लोग आपस में गाली -गलौच, मारपीट व पत्थरबाजी करने लगे। कुछ ही देर में कनकपुर रणक्षेत्र में तब्दील हो गया।


दुकान में लगाई आग
कनकपुर मंदिर के पास स्थित विनोद पासवान की जेनरल स्टोर्स की दुकान, मल्हू पासवान, लालबाबू पासवान की चाय की दुकान, शोभित पासवान, राजकुमार पासवान के एस्बेस्टस वाले घर में तोड़फोड़ व लूटपाट की और आग भी लगा दी गई। घटना की सूचना पर सकरी थानाध्यक्ष अमृत कुमार साह व पंडौल थानाध्यक्ष शंकर शरण दास दलबल के साथ वहां पहुंचे। इस दौरान उपद्रवियों ने पंडौल थानाध्यक्ष शंकर शरण दास पर उपद्रवियों ने पानी की बौछार व बीएमपी के चार-पांच जवान पर मिर्च पाउडर से हमला कर दिया। स्थिति को अनियंत्रित देख पुलिस लाइन से अतिरिक्त पुलिस बल को बुलाया गया। भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने लाठियां भांजी। घटनास्थल पर अग्निशमन दस्ता पहुंचकर आग पर काबू पाया। घायलों को इलाज के लिए अस्पताल पहुंचाया गया। थानाध्यक्ष अमृत कुमार साह ने बताया की मामले में कनकपुर निवासी शीतल पासवान, लक्ष्मण पासवान, राजकुमार पासवान, ममता देवी, दुलारचंद पासवान, सोनू कुमार पासवान, श्रवण उर्फ बबलू पासवान व कुहेश पासवान को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। अन्य आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।