बड़ी खबरें सिरसा खबर सिरसा में खास स्वास्थ्य

कोरोना महामारी में जिला प्रशासन का व्यापारियोंं से संवाद नहीं: हीरालाल शर्मा

सिरसा। कोरोना महामारी में यौद्धा के तौर पर काम कर रहे व्यापारियों के साथ जिला प्रशासन ज्यादती कर रही है, जोकि गलत है। इससे स्पष्ट है कि जिला प्रशासन का व्यापारियों से कोई संवाद नहीं है। हरियाणा प्रदेश व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष हीरालाल शर्मा ने जारी एक बयान में कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहरलाल सिरसा में आकर साप्ताहिक लॉकडाउन का ऐलान करते है और रात्रि में सरकार गाईडलाइंस भी जारी करती है, ऐसे में उस गाइडलाइंस के अनुसार व्यापारियों ने अपनी दुकानें खोलनी चाही, तो प्रशासन ने डंडे के बल पर उसे बंद करवा दिया।

 

प्रशासन को चाहिए था कि मुख्यमंत्री के ऐलान के बाद गाइडलाइंस जारी करता, शहर में अनाउसंमेंट की जाती, लेकिन ऐसा कुछ नहीं किया। दोपहर बाद प्रशासन ने गाइडलाइंस तो जारी की, जो शाम को मीडिया के माध्यम से लोगों तक पहुंची। हीरालाल शर्मा ने कहा कि आज अगर लॉकडाउन की उल्लंघना हो रही है, तो वह प्रशासन की मिस मैनेजमेंट है। प्रशासन को लोगों पर डंडे बरसाने की बजाए ऐसी व्यवस्थाएं करनी चाहिए कि आमजन को सहयोग भी प्रशासन को मिले।

 

उन्होंने कहा कि व्यापारी इस संकट की घड़ी में मरीजों व आमजन के लिए जरूरी खाद्य पदार्थों की पूर्ति कर रहा है।  ऐसे में अगर उसी व्यापारी वर्ग के साथ बदसलूकी होगी, तो उसका मनोबल टूटेगा। वहींं अचानक लॉकडाउन से मिठाई की दुकानों पर भी लाखोंं रुपयों का नुकसान हुआ है। खास बात ये भी है कि लॉकडाउन में सरकार के तमाम संसाधन बंद नहीं किए गए जबकि प्राइवेट संसाधनों को हर तरह से रोका जा रहा है। व्यापार मंडल कोरोना महामारी के रोकथाम हेतु जिला प्रशासन के साथ पहले भी खड़ा था आज भी खड़ा है और आगे भी खड़ा मिलेगा।

Related posts

पीटीआइ ने बारिश के पानी का भराव पर दूसरी जगह पर धरना दिया

admin

महिला ने पहले लिफ्ट मांगी, कुछ दूर जाने पर बोली- 2 हजार रुपये दो

admin

हरियाणा में आज 2488 नए केस Watch Media Bulletin

admin
Share this
Join Our Group