अपराध नौकरियां बड़ी खबरें सरकारी योजनाएं हरियाणा

शिकायतों पर हुआ अमल, नाके से बरती ढिलाई तो एसआई और कांस्टेबल सस्पेंड, दूसरे मामले में ठेकेदार का उठवाया सामान

My Sirsa, Chandigarh

नगर निगम के निर्माण कार्य में भ्रष्टाचार और ब्रांच में कार्यप्रणाली को लेकर आई शिकायतों पर निगम प्रशासन ने कड़ा संज्ञान लिया है। वहीं डीआईजी ने नाइट डोमिनेशन के दौरान पुलिस कर्मचारियों के ड्यूटी पर मुस्तैद न मिलने पर विभागीय कार्रवाई की है। एक सब इंस्पेक्टर और दो कांस्टेबल को सस्पेंड कर दिया गया।

नगर निगम प्रशासन ने आमजन की बार-बार शिकायत के बाद हाउस टैक्स ब्रांच से सहायक को हटा दिया है। जहां से उन्हें दूसरी शाखा में लगाया गया है। वहीं सेक्टर 13 में पार्षद ने निर्माण में घटिया सामग्री लगाए जाने की शिकायत की थी, जिस पर निगम ने ठेकेदार से निर्माण सामग्री उठवा दी है।

डीआईजी पहुंचे तलवंडी राणा नाके पर तो मुलाजिम नहीं दिखे थे मुस्तैद

नाइट डोमिनेशन के दौरान पुलिस विभाग ने रात 10 से अलसुबह 4 बजे तक विशेष चेकिंग अभियान चलाया था। पुलिस कितनी मुस्तैद है यह जानने के लिए डीआईजी बलवान सिंह राणा भी निरीक्षण पर निकले थे। तलवंडी राणा नाका से गुजरते समय उन्हें कोई बैरिकेड्स लगे नहीं मिले। इसके अलावा मुलाजिम भी मुस्तैद नहीं मिले तो उनके विरुद्ध तुरंत विभागीय कार्रवाई के आदेश जारी कर दिए। 1 सब इंस्पेक्टर विश्वजीत और 2 कांस्टेबल सूरजमल और सुरेंद्र को सस्पेंड कर दिया है।

इस मामले में यह बात सामने आई थी कि नाका पर बैरिकेडिंग अनिवार्य है। तभी वाहनों को रोककर चेकिंग संभव है लेकिन तलवंडी राणा नाका पर ऐसा नहीं था। इस वजह से वहां तैनात मुलाजिम भी मुस्तैद नहीं दिखे थे। इस पर कड़ा संज्ञान लेते हुए उक्त एक्शन लिया है। इस मामले में सस्पेंड मुलाजिम डीआईजी के सामने अपना पक्ष रखेंगे। यह चर्चा है कि करीब 30-35 बैरिकेड्स सेना भर्ती के दौरान कैंट में लगवा रखे हैं। इस वजह से थाना एरिया में शॉर्टेज हो गई है।

पार्षद ने लगाया था घटिया सामग्री लगाने का आरोप, निगम का एक्शन

सेक्टर 13 में मेन चौक के निर्माण में पुरानी ईंटें और पुरानी ग्रिल लगाए जाने के आरोप के मामले में नगर निगम की टेक्निकल टीम ने ठेकेदार को फटकार लगाई है। इतना ही नहीं नगर निगम की टेक्निकल टीम ने निरीक्षण किया तो खामी मिली है। अधिकारियों ने ठेकेदार का सारा सामान मौके से उठवा दिया है।

पार्षद अमित ग्रोवर ने 26 फरवरी को काम रुकवा था। उन्होंने जेई को शिकायत की थी। पार्षद के विरोध के बाद ठेकेदार ने काम बंद कर दिया था। वार्ड 14 के पार्षद ग्रोवर ने आरोप लगाया कि उन्होंने एजेंडे में सेक्टर 13 के चौक, 9-11 के पार्कों व सेक्टर 16-17 में नवीनीकरण करने की मांग रखी थी।

यह एजेंडा पास भी हो गया था। ठेकेदार ने नवीनीकरण की बजाय मरम्मत का कार्य शुरू करवा दिया गया। चौक के निर्माण कार्य में पुरानी ईंटें व अन्य पुरानी ग्रिल लगाने का आरोप लगाया था। निर्माण में घटिया क्वालिटी का क्रेशर प्रयोग में लाए जाने की बात कही थी। एक्सईएन संदीप सिहाग ने बताया कि टीम ने मौका निरीक्षण किया था। ठेकेदार को फोन कर साइट से क्रेशर उठवा दिया है।

इधर… गुम फाइल नहीं ढूंढ़ने पर सहायक को टैक्स ब्रांच से हटाया

हाउस टैक्स में बार-बार विवाद के चलते व पार्षदों व आम पब्लिक के साथ दुर्व्यवहार और अन्य शिकायतों के आधार पर अखिरकार अधिकारियों ने सहायक सत्यवान मलिक को टैक्स ब्रांच से हटा दिया है। सहायक का इस ब्रांच से तबादला कर स्थापना शाखा में किया है। इसके साथ अत्यधिक कार्यभार संभाल रहे सहायक सुरेंद्र वर्मा को कुछ राहत दी है। अब उनके स्थान पर स्थापना शाखा का काम सत्यवान मलिक देखेंगे।

सहायक सुरेंद्र वर्मा को तहबाजारी ब्रांच, सामान्य शाखा व सामुदायिक केंद्रों के देखरेख का काम संभालने की जिम्मेदारी दी गई है। जेसी बेलिना ने तुरंत प्रभाव से आदेशों की पालना करने के निर्देश दिए हैं।

दरअसल, सहायक पर प्रॉपर्टी टैक्स में बार-बार आरोप लगते रहे हैं। हाल ही में ज्वॉइंट कमिश्नर बेलिना ने फाइल ढूंढने के निर्देश दिए थे। इतना ही नहीं उन्हें यह तक चेतावनी दी गई थी कि या तो दिए गए समय पर फाइल ढूंढ़कर लाई जाए वरना आपकी सस्पेंशन होगी। इसके बावजूद फाइल को लेकर सहायक ने न मिलने की बात कही।

Related posts

गांव जोड़कियां में रखी भगवान कृष्ण के मंदिर की आधारशिला

admin

बीमा कंपनी के बीच पिस रहे अस्पताल में कोरोना मरीज

admin

45 साल का हुआ सिरसा….जानिए इस शहर की क्या है खासियत

admin
Share this
Join Our Group