नींबू के दाम में आई बड़ी गिरावट ,जानिए ताजा रेट
 
abx
एक महीने पहले तक लोकल मंडियों में 320 रुपये प्रति किलो तक बिकने वाला नींबू (Neembu)अब 120 से 180 रुपये प्रति किलो तक बिकने लगा है।
 | Fri, 13 May

Breaking News, नई दिल्ली, इसकी कीमत में एक महीने के अंदर ही करीब 60% तक आई गिरावट की वजह कई राज्यों से नींबू (Neembu) की आवक अधिक होना बताया जा रहा है।

भीषण गर्मी में नींबू की कीमतों (Neembu Price) में आई गिरावट से लोगों को काफी राहत मिली है। लोग अब नींबू (Neembu) का पहले से ज्यादा इस्तेमाल कर पा रहे हैं। गुरुवार को आजादपुर मंडी में 40 से 50 रुपये प्रति किलो तक नींबू (Neembu) बिका। वहीं लोकल मंडियों में 10 रुपये के चार नींबू मिल रहे हैं।


आजादपुर मंडी में नींबू (Neembu)के थोक व्यापारी वरुण चौधरी ने बताया कि पहले के मुकाबले अब कर्नाटक, गुजरात और आंध्र प्रदेश से दिल्ली की थोक मंडियो में नींबू की आवक बढ़ी है।

डेढ़ महीने पहले तक रोजाना 8 से 10 गाड़ियां ही नींबू लेकर आती थी। अब यह बढ़कर 16 हो गईं हैं। इससे पहले नींबू (Neembu) की कीमतों में उछाल का सबसे बड़ा कारण गुजरात में तूफान व आंध्र प्रदेश में बेमौसम बरसात रही।

आंधी और बारिश से नींबू (Neembu) के पेड़ों से फूल गिर गए थे। लोकल मंडियों में एक नींबू (Neembu) 10 रुपये तो एक किलो 320 रुपये का मिल रहा था।


अब क्या हो गई कीमत


अब काफी राहत मिली है। गुरुवार को आजादपुर मंडी में 40 से 50 रुपये प्रति किलो तक नींबू (Neembu) बिका। वहीं लोकल मंडियों में 10 रुपये के चार नींबू (Neembu) मिल रहे हैं। तो 120 रुपये प्रति किलो बिका।

सुल्तानपुरी के सब्जी विक्रेता राजीव ने बताया कि गर्मी के दिनों में नींबू (Neembu) जल्द खराब हो जाता है। इसके साथ ही हम थोक में 5 से 10 किलो नींबू (Neembu) लेकर आते हैं। अधिकतर ग्राहक 100 ग्राम से 250 ग्राम तक खरीदते हैं।

बार-बार वजन करने से भी कुछ एक्स्ट्रा माल चला जाता है। साथ ही आजादपुर मंडी से सुल्तानपुरी तक लाने का किराया भी लग जाता है। यही कारण है कि थोक के मुकाबले लोकल मंडियों में नींबू (Neembu) की कीमतों में फर्क है।