Tina Dabi Awareness Campaign: टीना डाबी फिर आई चर्चाओं में,फिर की ये पहल,जानिए क्या हैं मामला

कभी खूबसूरती,एजुकेशन को लेकर तो कभी मार्कशीट व शादी को लेकर चर्चा में रहने वाली कलेक्टर टीना डाबी एक बार फिर चर्चा में आ गई है। लेकिन अबकी बार चर्चा में आने का कारण हैं जागरूक 
 
टीना डाबी फिर आई चर्चाओं में

Tina Dabi Awareness Campaign: कभी खूबसूरती,एजुकेशन को लेकर तो कभी मार्कशीट व शादी को लेकर चर्चा में रहने वाली कलेक्टर टीना डाबी एक बार फिर चर्चा में आ गई है। लेकिन अबकी बार चर्चा में आने का कारण हैं जागरूक 

अभियान जो स्कूल की बालिकाओं को लेकर हैं। जैसलमेर कलेक्टर टीना डाबी ने जैसाण शक्ति लेडीज फर्स्ट अभियान चलाया हैं। इसका उद्देश्य मिनी सिनेमाघर में सरकारी स्कूल की छात्राओं को गुड टच-बैड टच, साइबर अपराध, बाल विवाह और बालिका शिक्षा जैसे महत्वपूर्ण और संवेदनशील मुद्दों से 

जुड़ी शॉर्ट फिल्में दिखाई गईं।उन्होंने बताया कि ये सिनेमा ऑन व्हील्स, जैसलमेर के चप्पे-चप्पे में जाएगी और सरकारी स्कूल की बालिकाओं को अवेयर करने के साथ-साथ मोटिवेट करने का भी काम करेगी। 

सर्किट हाउस में छात्राओं के साथ देखीं फिल्में

जैसलमेर सर्किट हाउस के पास एक ट्रेलर में बनाए सिनेमा ऑन व्हील्स में कलेक्टर टीना डाबी ने स्कूली छात्राओं के साथ कई शॉर्ट फिल्मों को देखा और बालिकाओं को फिल्मों के लिहाज से जागरूक करते हुए मोटिवेट करने का प्रयास किया। 

बालिकाओं को जागरूक करने का चला रही अभियान

 जैसलमेर की कलेक्टर टीना डाबी ने कहा की आज के समय में बालिकाओं को जागरूक करना बेहद आवश्यक हैं। जिस तरह साइबर अपराध और गुड टच- बैड टच आधी लड़कियों को लेकर मामलें सामने आ रहे हैं,इनको जागरूक करना बहुत जरूरी हैं। इस आयु में बच्चियों को अच्छे बुरे का ज्ञान 

नहीं होता और गलत रास्ते पर चल पड़ती हैं। टीना डाबी ने कहां की जागरूक करने की मुहिम हमने जैसाण शक्ति अभियान के दौरान शुरू की है। इस आयोजन में सिनेमा ऑन व्हील्स के माध्यम से बालिकाओं को जागरूक करने और कानून आदि की जानकारी उनतक पहुंचाना हमारा लक्ष्य है ताकि 

सभी बच्चियों को आज कल क्या हो रहा है इसकी भी जानकारी मिले। यहां कई तरीके की वुमन इम्पावरमेंट की शॉर्ट फिल्मों को दिखाया जाता है। इन फिल्मों से गर्ल्स को जागरूक करने के साथ-साथ मोटिवेट करने की मुहिम को चलाया जा रहा है।उन्होंने बताया कि ये सिनेमा ऑन व्हील्स, 

जैसलमेर के चप्पे-चप्पे में जाएगी और सरकारी स्कूल की बालिकाओं को अवेयर करने के साथ-साथ मोटिवेट करने का भी काम करेगी।