Success Story: क्या एवरेज स्टूडेंट IAS बन सकते हैं? जानिए UPSC टॉपर जुनैद अहमद का जवाब
उत्तर प्रदेश के रहने वाले जुनैद अहमद की पढ़ाई में कम रुचि थी. स्कूल में वह एक एवरेज स्टूडेंट थे. उन्होंने अपनी कॉलेज की पढ़ाई भी डिस्टेंस लर्निंग मोड में की थी. फिर अचानक उन्हें यूपीएससी परीक्षा (UPSC Exam) देने का ख्याल आया था और वह उसकी तैयारी में जुट गए थे.
 
उत्तर प्रदेश के रहने वाले जुनैद अहमद की पढ़ाई में कम रुचि थी. स्कूल में वह एक एवरेज स्टूडेंट थे. उन्होंने अपनी कॉलेज की पढ़ाई भी डिस्टेंस लर्निंग मोड में की थी. फिर अचानक उन्हें यूपीएससी परीक्षा (UPSC Exam) देने का ख्याल आया था और वह उसकी तैयारी में जुट गए थे.

IAS Junaid Ahmad: उत्तर प्रदेश के रहने वाले जुनैद अहमद की पढ़ाई में कम रुचि थी. स्कूल में वह एक एवरेज स्टूडेंट थे. उन्होंने अपनी कॉलेज की पढ़ाई भी डिस्टेंस लर्निंग मोड में की थी. फिर अचानक उन्हें यूपीएससी परीक्षा (UPSC Exam) देने का ख्याल आया था और वह उसकी तैयारी में जुट गए थे. इस दौरान वह कई बार असफल हुए लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी. जानिए पढ़ाई-लिखाई में एवरेज रहे जुनैद अहमद का आईएएस बनने का सफर (IAS Junaid Ahmad Success Story).

 IAS Junaid Ahmad Early Life: आईएएस जुनैद अहमद उत्तर प्रदेश के बिजनौर जिले के एक कस्बे के रहने वाले हैं. वह उन लोगों के लिए मिसाल हैं, जिन्हें लगता है कि यूपीएससी परीक्षा (UPSC Exam) में सिर्फ स्कूल-कॉलेज के टॉपर्स ही सफल हो सकते हैं. जुनैद अहमद ग्रेजुएशन तक बिल्कुल एवरेज स्टूडेंट थे. अपनी मेहनत के दम पर और अपनी गलतियों से सीखते हुए वह आईएएस ऑफिसर (IAS Officer) बन गए.

IAS Junaid Ahmad Early Life: आईएएस जुनैद अहमद उत्तर प्रदेश के बिजनौर जिले के एक कस्बे के रहने वाले हैं. वह उन लोगों के लिए मिसाल हैं, जिन्हें लगता है कि यूपीएससी परीक्षा (UPSC Exam) में सिर्फ स्कूल-कॉलेज के टॉपर्स ही सफल हो सकते हैं. जुनैद अहमद ग्रेजुएशन तक बिल्कुल एवरेज स्टूडेंट थे. अपनी मेहनत के दम पर और अपनी गलतियों से सीखते हुए वह आईएएस ऑफिसर (IAS Officer) बन गए.

 IAS Junaid Ahmad Education: जुनैद अहमद ने 12वीं तक की पढ़ाई अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी से की थी. इसके बाद उन्होंने इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी (इग्नू) से ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल की थी. ग्रेजुएशन तक उनका पढ़ाई में कुछ खास मन नहीं लगता था और उनका रिजल्ट हमेशा 60% के आस-पास रहता था. जुनैद अहमद इस बात का उदाहरण हैं कि एवरेज स्टूडेंट भी यूपीएससी परीक्षा (UPSC Exam) में सफल होकर आईएएस ऑफिसर (IAS Officer) बन सकते हैं.

IAS Junaid Ahmad Education: जुनैद अहमद ने 12वीं तक की पढ़ाई अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी से की थी. इसके बाद उन्होंने इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी (इग्नू) से ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल की थी. ग्रेजुएशन तक उनका पढ़ाई में कुछ खास मन नहीं लगता था और उनका रिजल्ट हमेशा 60% के आस-पास रहता था. जुनैद अहमद इस बात का उदाहरण हैं कि एवरेज स्टूडेंट भी यूपीएससी परीक्षा (UPSC Exam) में सफल होकर आईएएस ऑफिसर (IAS Officer) बन सकते हैं.

 IAS Junaid Ahmad UPSC: जुनैद अहमद ने ग्रेजुएशन के आखिरी साल में सिविल सर्विस परीक्षा की तैयारी शुरू की थी. इसके लिए उन्होंने जामिया की रेजिडेंशियल कोचिंग ज्वॉइन कर ली थी. वहां बाकी एस्पिरेंट्स को देखकर वह भी अपनी पढ़ाई को लेकर काफी गंभीर हो गए थे. हालांकि आईएएस ऑफिसर (IAS Officer) बनने की उनकी राह इतनी आसान नहीं थी. वह कई बार असफल हुए लेकिन हर बार खुद की ही गलतियों से सीखकर आगे बढ़ते रहे.

IAS Junaid Ahmad UPSC: जुनैद अहमद ने ग्रेजुएशन के आखिरी साल में सिविल सर्विस परीक्षा की तैयारी शुरू की थी. इसके लिए उन्होंने जामिया की रेजिडेंशियल कोचिंग ज्वॉइन कर ली थी. वहां बाकी एस्पिरेंट्स को देखकर वह भी अपनी पढ़ाई को लेकर काफी गंभीर हो गए थे. हालांकि आईएएस ऑफिसर (IAS Officer) बनने की उनकी राह इतनी आसान नहीं थी. वह कई बार असफल हुए लेकिन हर बार खुद की ही गलतियों से सीखकर आगे बढ़ते रहे.

 IAS Junaid Ahmad Rank: जुनैद अहमद तीन बार यूपीएससी परीक्षा (UPSC Exam) में असफल हो गए थे. अपने चौथे प्रयास में वह सफल तो हो गए लेकिन ऑल इंडिया रैंक 352 मिलने की वजह से वह आईएएस बनने से चूक गए थे. तब उन्हें आईआरएस ऑफिसर (IRS Officer) की पोस्ट मिली थी. फिर साल 2019 में वह पांचवीं बार यूपीएससी परीक्षा में शामिल हुए. इस बार उनकी मेहनत रंग लाई और वह तीसरी रैंक के साथ आईएएस ऑफिसर बन गए. आईएएस जुनैद अहमद फिलहाल झांसी में सीडीओ (CDO Jhansi) हैं.

IAS Junaid Ahmad Rank: जुनैद अहमद तीन बार यूपीएससी परीक्षा (UPSC Exam) में असफल हो गए थे. अपने चौथे प्रयास में वह सफल तो हो गए लेकिन ऑल इंडिया रैंक 352 मिलने की वजह से वह आईएएस बनने से चूक गए थे. तब उन्हें आईआरएस ऑफिसर (IRS Officer) की पोस्ट मिली थी. फिर साल 2019 में वह पांचवीं बार यूपीएससी परीक्षा में शामिल हुए. इस बार उनकी मेहनत रंग लाई और वह तीसरी रैंक के साथ आईएएस ऑफिसर बन गए. आईएएस जुनैद अहमद फिलहाल झांसी में सीडीओ (CDO Jhansi) हैं.