Motivational Story: 53 साल की उम्र में चुपके से की मां ने पढ़ाई, 10वीं में आया ऐसा रिजल्ट अब बेटा दिखा रहा मार्कशीट

Motivational Story: अगर सीखने की चाहत हो तो कोई भी बाधा आपको रोक नहीं सकती. इस बात को साबित किया है 53 की एक महिला ने. इस महिला ने 37 साल पहले स्कूल छोड़ा था और अब 53 की उम्र में 10वीं पास की.

 
I

दुनिया में केवल मां-बाप ही हैं जो अपने बच्चों को खुद से भी आगे बढ़ते देखना चाहते हैं और जब वही बच्चे अपने जीवन में कुछ हासिल कर लेते हैं, तो मां-बाप को उनपर गर्व होता है, तो चलिए आज हम आपको ऐसे ही एक बेटे की कहानी बताते हैं जिसने अपनी मां की मार्कशीट शेयर करते हुए उनकी सक्सेस स्टोरी दुनिया को बताई है. बता दें कि इस व्यक्ति की 53 साल की मां ने ये साबित कर दिया कि सीखने की कोई उम्र या सीमा नहीं होती है. उन्होंने 37 साल पहले स्कूल छोड़ा था और अब 53 की उम्र में 10वीं पास कर ली.

जानकारी के लिए बता दें कि प्रसाद जम्भाले नाम का एक व्यक्ति मास्टरकार्ड में इंजीनियर है. प्रसाद ने सोशल नेटवर्किंग प्लेफॉर्म linkdin पर अपनी मां कल्पना की कहानी साझा की है. जिसमें उन्होंने बताया कि उसकी मां ने सेकेंडरी स्कूल सर्टिफिकेट पास कर लिया. इस व्यक्ति की मां ने साबित कर दिया कि जिंदगी में कभी भी सीखा जा सकता है, उम्र तो केवल एक संख्या है, अपनी मेहनत के दम पर इंसान कहीं भी पहुंच सकता है और कुछ भी कर सकता है.

गौरतलब है कि इसके साथ ही प्रसाद ने अपनी मां की कहानी के बारे में बताते हुए लिखा जब मेरी मां 16 साल की थी, तब उनके पिता की मृत्यु हो गई और उसके बाद आर्थिक संकट आया. ऐसे में अपने भाई-बहनों की पढ़ाई के लिए उन्होंने अपनी पढ़ाई छोड़ दी और काम करना शुरू कर दिया. साथ ही उन्होंने बताया कि पिछले साल मेरी मां एक सरकारी स्कूल में किसी काम से गई हुई थीं. वहां एक टीचर ने उनसे उनकी शिक्षा के बारे में पूछा. जब टीचर को ये पता चला कि मेरी मां ने 10वीं पास नहीं की है, तो टीचर ने बताया कि एक सरकारी स्कीम के तहत वे अपनी SSC की परीक्षा दोबारा दे सकती हैं. और इन सबका का खर्चा सरकार उठाएगी.