Cotton: कॉटन भाव में लगी आग, कपड़े होंगे महंगे, टेक्सटाइल मिनिस्ट्री ने बुलाई बैठक
 
Cotton

Cotton : देशभर में महंगाई आसमान छू रही है. आटे और सरसों के तेल के बाद अब कपड़ा भी महंगा हो सकता है. इसका कारण यह है की कॉटन कीमतें विश्व भर में जबरदस्त तेजी देखी जा रही है. फिलहाल के समय अगर कॉटन रेट की बात करें तो लगभग 50000 के पार जाने का अनुमान नजर आ रहा है. अगर मान कर चलें तो अब एक तरह से कॉटन जो है सफ़ेद सोना बन चूका है. कॉटन के तेजी से बढ़ रहे भाव को देखते हुए टेक्सटाइल मिनिस्ट्री ने एक खास बैठक बुलाई है.

अगर घरेलू बाजार की बात करें तो कॉटन इस बार कीमतों के हिसाब से सारे रिकॉर्ड तोड़ चूका है. जानकारी बता दें की एमसीएक्स पर किसी भी समय कॉटन 50 हजार के पार पहुंच सकता है. अब तक कॉटन रेट 11 साल के रिकॉर्ड रेट पर पहुंच चूका है. ग्लोबल बाजार में कॉटन रेट जबरदस्त तेजी पर नज़र आ रहें है जिससे जिन किसानों के पास कॉटन बचा हुआ है वह 15 हजार प्रति किवंटल होने की उम्मीद में कॉटन स्टॉक कर इंतजार कर रहें है.

अगर कॉटन महंगा है तो जाहिर सी बात है कपडे भी महंगे होंगे. विश्व बाजार में कॉटन की कमी से बाजार में कॉटन भाव उछाल पर बने हुए है और तेजी से और ज्यादा भाव भी बढ़ रहा है. वहीं स्पिनिंग मिलों से तेजी से आ रही अधिक मांग से कॉटन रेट में आग लगी हुई है. अमेरिका में बीते कॉटन सीजन में उत्पादन में भारी कमी देखी गई. और भारत में भी ज्यादा बारिश से इस बार कॉटन उत्पादन कम हुआ.

मिली जानकारी के मुताबिक, सरकार कॉटन भाव पर नजर बनाए हुए हैं. इसी को देखते हुए 27 मई को टैक्सटाइल मिनिस्टर ने एक बैठक बुलाई है. वहीं अप्रैल महीने में सरकार ने कॉटन पर 10 प्रतिशत की ड्यूटी हटाई थी. लेकिन यह फैसला लेने के बाद सिर्फ 1 सप्ताह तक ही कॉटन रेट कम रहें बाद में दुबारा तेजी पकड़ने लगे. वहीं इस मीटिंग से पहले 13 मई को भी एक मीटिंग बुलाई गई थी. लेकिन अब इस मीटिंग से क्या निष्कर्ष निकलता है इसके लिए अभी थोड़ा इंतजार करना पड़ेगा.