पेट्रोल-डीजल के दाम में दोबारा होगी कमी, यहाँ पर देख सकते हैं जानकारी
 
BENEFITS","Best saving scheme","Central Government","Inflation","petrol diesel price

नई दिल्ली: पेट्रोल-डीजल की कीमत में लगातार होने वाली बढ़ोतरी से आम लोगों को जल्द ही राहत मिलने जा रही है। हाल में ही सरकार ने पेट्रोल-डीजल के एक्साइज ड्यूटी में कमी कर दिया है जिसका फायदा आपको लोगों को मिल सकता है।

केंद्र सरकार के बाद कई राज्य सरकारों ने भी वैट में कटौती कर दी है जिसके बाद से सभी को काफी फायदा हो रहा है। ऐसे में, पेट्रोल-डीजल की कीमत में कुल 10 से 15 रुपये तक की कमी हो चुकी है। आपको बता दें कि एक बार फिर पेट्रोल-डीजल की कीमत में कमी होने की संभावना है।

5 रुपये तक कम हो सकते हैं पेट्रोल के दाम

दरअसल, राज्य सरकारें अगर चाह सकते हैं तो आगे भी पेट्रोल-डीजल की कीमतों में 5 रुपये प्रति लीटर तक की कमी में मदद कर सकती है। एसबीआई ने अपनी एक रिसर्च रिपोर्ट जारी कर दिया है।

जिसमें यह बताया है कि जब पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ाए गए थे तब हर राज्य को वैट (VAT) के रूप में 49,229 करोड़ रुपये का एक्स्ट्रा राजस्व मिलना शुुरु हो गया था। ऐसे में, राज्य सरकारें वैट में कटौती करने जा रही है।

कौन से राज्य को ज्यादा होगा फायदा

अब बात करते हैं कि कौन से राज्य इससे ज्यादा फायदे में होने जा रहे हैं। महाराष्ट्र, गुजरात और तेलंगाना सबसे ज्यादा फायदे में होने जा रहे हैं। घोष ने बताया कि महाराष्ट्र पर जीडीपी अनुपात की तुलना में कर्ज कम हो गया है वे पेट्रोल और डीजल के दाम में 5 रुपये प्रति लीटर तक कटौती कर फायदा ले सकते हैं।

जबकि हरियाणा, केरल, राजस्थान, तेलंगाना और अरुणाचल प्रदेश सहित कई राज्यों का टैक्स-जीडीपी अनुपात 7 फीसदी से ज्यादा पहुंच गया है। यानी ये राज्य चाहें तो आसानी से वैट में कटौती करने के बाद फायदा मिल सकता है। इन राज्यों के पास ईंधन पर टैक्स को समायोजित करने की पर्याप्त वजह मानी जा रही है।